ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानगद्दारी के बाद गहलोत-पायलट एक मंच पर, दोनों नें आंख तक नहीं मिलाई; जानें दोनों नेता क्या बोले

गद्दारी के बाद गहलोत-पायलट एक मंच पर, दोनों नें आंख तक नहीं मिलाई; जानें दोनों नेता क्या बोले

राजस्थान में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर आज राजधानी जयपुर में कांग्रेस के वाॅर रूम में संगठन महामंत्री केसी वेणुगोपाल ने सीएम गहलोत और सचिन पायलट समेत अन्य नेताओं के साथ रिव्यू मीटिंग ली।

गद्दारी के बाद गहलोत-पायलट एक मंच पर, दोनों नें आंख तक नहीं मिलाई; जानें दोनों नेता क्या बोले
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरTue, 29 Nov 2022 07:54 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर आज राजधानी जयपुर में कांग्रेस के वाॅर रूम में संगठन महामंत्री केसी वेणुगोपाल ने सीएम गहलोत और सचिन पायलट समेत अन्य नेताओं के साथ रिव्यू मीटिंग ली। इसके बाद प्रेस वार्ता में गहलोत, पायलट, केसी वेणुगोपाल, भंवर जितेंद्र सिंह और पीसीसी चीफ डोटासार एक साथ मंच पर नजर आए। मीटिंग के बारे में सबसे पहले जानकारी देने के लिए पायलट ने मीडिया से बात की। लेकिन सीएम गहलोत से नजरें नहीं मिलाई। पायलट के बाद गहलोत ने मीडिया से बात की और सचिन पायलट का नाम भी लिया। पायलट सीएम के बगल में खड़े रहे। लेकिन इस दौरान सचिन पायलट के चेहरा पर तनाव साफ दिखाई दिया। जब सीएम गहलोत मीडिया को संबोधित कर रहे थे। उस समय पायलट ऐसे लग रहे थे कि उनकी सीएम गहलोत के भाषण में कोई रूचि नहीं है। सीएम गहलोत ने मुस्कराते हुए कहा- राजस्थान एकजुट है। जैसे मैंने कहा। कल राहुल जी ने कहा था दोनों सम्मानित नेता है। अशोक गहलोत और सचिन पायलट एसेट्स है। हमारी पार्टी में खूबी है। जब नंबर कह देता है। जब नंबर वन का संदेश आ जाता है तो नीचे तक सब  मिलकर काम करते हैं। पार्टी के हित में क्या हो सकता है। उस पर हम लोग आगे बढ़ते है। मैं कह सकता हूं कि राजस्थान के अंदर हमारी चुनौती है अगला चुनाव। चुनाव जीतना हमारे लिए आवश्यक है। देशहित में। कांग्रेस मजबूत होगी देश के अंदर। 

पायलट बोले- जोश के साथ राहुल गांधी का स्वागत होगा

पायलट ने कहा- आज वेणुगोपाल जी जयपर आए थे। आप सब जानते हैं। राहुल जी की यात्रा बहुत सफल, ऐतिहासिक और कामयाब यात्रा है। इस यात्रा को देखकर बीजेपी और जो विरोधी साथी है। बहुत चिंतित है और व्यथित है। यह यात्रा राजस्थान में आ रही है। राजस्थान वह स्थान है। जहां पर हमारी सरकार है। चुनाव अगले साल होने वाले हैं। आज विस्तार से सभी मुद्दों पर चर्चा  की है। मुख्यमंत्री जी, वेणुगोपाल औ डोटासरा हम सभी ने चर्चा की है। राहुल गांधी का झालावाड़ राजस्थान में प्रवेश होगा। मैं समझता हूं सबसे ज्यादा उत्साह होगा। उमंग और जोश के साथ  झालावाड़ में स्वागत होगा। फिर लगभग 15 दिन तक यात्रा रहेगी। बहुत कामयाब होने वाली है। जिस मुद्दे को लेकर राहुल गांधी निकले है। इस देश में जो सवाल उठा रहे हैं। लोगों को जोड़ने का। प्यार का। मोहब्बत का। पैगाम का। उससे सकारात्मक संदेश न केवल कांग्रेस पार्टी के लिए बल्कि पूरे देश में जा रहा है। जिन लोगों के हाथ में कमान है। उनके जवाबदेही के लिए। नौजवान, किसान और गरीबों के मुद्दे राहुल गांधी उठा रहे हैं। सच यह है बीजेपी के पास जबाव देने के लिए कुछ नहीं है। राजस्थान में यह यात्रा आएगी। ऐतिहासिक होने वाली है। हर वर्ग इस यात्रा से जुड़ेगा। स्वत ही लोग अपनी इच्छा से आएंगे। लाखों की तादात में राहुल गांधी के साथ लोग जुड़ेंगे। हम सब ने चर्चा की है। मैं पूरे प्रदेशवासियों की तरफ से यह संदेश देना चाहता हूं। हम सब कांग्रेस कार्यकर्ता है। हम सब मिलकर राहुल गांधी और पार्टी को आगे रखेंगे। मैं यह मानता हूं कि राजस्थान की यात्रा सबसे उम्दा और नंबर एक की यात्रा रहेगी। कार्यकर्ता राहुल गांधी से जुड़ेंगे। ऐसा मेरा विश्वास है। 

गहलोत बोले- बीजेपी वाले चिंतित हो गए है 

सीएम गहलोत ने कहा- जैसा मैंने कहा आपको। यात्रा का मैसेज बहुत शानदार है। पूरे मुल्क में। यात्रा एक मार्ग से जा रही है। लेकिन संदेश देश के हर राज्य में, हर घर में और हर गांव में है। क्योंकि मुद्दा वही है राहुल गांधी का। जो अवाम के दिल के अंदर है। महंगाई की मार कमरतोड़ चुकी है। बेरोजगारी बहुत भयंकर है। प्यार, मोहब्बत और भाईचारे की राजनीति होनी चाहिए। तनाव नहीं होना चाहिए। हिंसा नहीं होनी चाहिए। ये मुद्दे आज पूरे देश के अंदर है। राहुल गांधी पूरे देश की भावना का प्रतिनिधित्व करते हुए यहां पर आ रहे हैं। यात्रा में देखा आपने भीड़ उमड़ रही है। कोई कल्पना नहीं कर सकता। सीएम गहलोत ने कहा कि बीजेपी वाले तो इतने चिंतित हो गए है। विचलित हो गए है। इसलिए वे कई तरह के आरोप लगा रहे है। यात्रा पर भी लगा रहे हैं। मीडिया में दबाव बना रहे हैं। माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। मैं आपको कह सकता हूं कि राहुल गांधी जिस रूप में कारवां लेकर चल पड़े है। जो मैसेज दे रहे है। जगह- जगह पर प्रेस वार्ता के माध्यम से भी, मीटिंग के माध्यम से भी। मैं समझता हूं कि पूरे देश के अंदर एक नई आशा की किरण जागी है। आने वक्त के अंदर यात्रा तो समाप्त हो जाएगी, मान लीजिए 2 हजार किलोमीटर। उसके बाद जो माहौल बना है देश के अंदर। मैं समझता हूं कि मुद्दा राहुल गांधी ने जो पकड़ा है। पूरे देश ने स्वीकर किया है। आलोचना और असहमति सहन नहीं की जा रही है। 

मोदी और शाह घबराए हुए है

मोदी और अमित शाह जिस तरह से गुजरात में घूम रहे हैं। गांव गांव और घर घर। इस तरह की यात्रा वहां क्यों हो रही है। आप समझ सकते हैं। दोनों घबराए हुए है। माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन सफल नहीं हो रहे हैं। राहुल गांधी की यात्रा का संदेश साफ है। गुजरात में लोगों को भड़का रहे हैं। अमित शाह ने कहा था हमने सबक सिखा दिया। इसका मतलब ये है कि दंगे हो और उसका फायदा उठाए। मैं समझता हूं। देश समझ गया है। प्रदेश समझ गया है। मैं समझता हूं कि गुजरात के अंदर चौंकाने वाले परिणाम आ सकते हैं। मैं समझता हूं देश का भविष्य बना रहेगा। क्योंकि जो चुनौती है देश के सामने, इंदिरा गांधी ने जान दे दी। देश को अखंड रखा। राजीव गांधी शहीद हो गए। शांति स्थापित करने के प्रयास के अंदर तो तमाम बाते हमारे जेहन के अंदर है। हमारी लिए पार्टी सर्वोपरि है। हम चाहेंगे पार्टी के लिए राहुल गांधी का जो कारवां चल पड़ा है। आगे बढ़े। देश के अंदर कांग्रेस का रुतबा था जो पहले पुन कायम होगा। क्योंकि कांग्रेस का और देश का डीएनए एक है। फासिस्ट ताकतें लोकतंत्र का मुखौटा पहनकर राजनीति कर रहे हैं। उनको एक्सपोज करने का काम भी हम यात्रा के बाद मिलकर करेंगे। 

वेणुगोपाल बोले- रिव्यू मीटिंग अच्छी रही

केसी वेणुगोपाल ने कहा कि आज भारत जोड़ो यात्रा की रिव्यू मीटिंग बहुत अच्छी रही। पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा- वेणुगोपाल भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियों को लेकर आए थे। जो हमारी 36 आदमियों की कमेटी है। उसकी मीटिंग ली है। जिनकों इंचार्ज बनाया था। सारी व्यवस्थाओं का जायजा लिया। राहुल गांधी की यात्रा शानदार तरीके से निकलेगी।