DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजस्थान में आपसी खींचतान कांग्रेस को पड़ी महंगी

bjp and congress

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को जिन प्रदेशों में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी, उनमें राजस्थान सबसे आगे था। उम्मीद थी कि अनुभवी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और युवा उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बदौलत पार्टी प्रदेश की अधिकतर लोकसभा सीट पर जीत दर्ज करने में सफल रहेगी। पर वर्ष 2014 की तरह भाजपा इस बार भी सभी लोकसभा सीट जीतने में सफल रही।

कांग्रेस ने कुछ माह पहले ही विधानसभा चुनाव जीतकर प्रदेश में सरकार का गठन किया है। प्रदेश सरकार के गठन के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने किसानों की कर्जमाफी सहित कई चुनावी वादों को अमलीजामा पहना दिया। चुनाव प्रचार के दौरान पार्टी ने इन्हें एक बड़ा मुद्दा भी बनाया। पर राजस्थान प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की आपसी लड़ाई पार्टी के प्रदर्शन पर भारी पड़ी।

वर्ष 2009 के चुनाव में कांग्रेस राजस्थान में बीस सीट जीतने में सफल रही थी। तब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी। इस बार विधानसभा चुनाव के बाद सरकार के गठन से पहले मुख्यमंत्री पद को लेकर जिस तरह जोर आजमाइश हुई, वह किसी से छुपी नहीं है। पार्टी के एक नेता ने कहा कि चुनाव परिणाम से साफ है कि कांग्रेस नेताओं के बीच आपसी झगड़ा बरकरार है। ऐसे में पार्टी को फौरन इस पर ध्यान देना चाहिए।

Rajasthan Election Result 2019 Live Updates: BJP सभी सीटों पर आगे- 8 पर जीत दर्ज

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Congress internal issues in Rajasthan create burden in Lok Sabha Election Results 2019