ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानअग्निपथ योजना के विरोध में राजस्थान कांग्रेस की तिरंगा यात्रा, सीएम गहलोत बोले- योजना को लेकर युवाओं में आक्रोश 

अग्निपथ योजना के विरोध में राजस्थान कांग्रेस की तिरंगा यात्रा, सीएम गहलोत बोले- योजना को लेकर युवाओं में आक्रोश 

राजस्थान कांग्रेस कमेटी ने आज अग्निपथ योजना के विरोध तिरंगा यात्रा निकाली। जयपुर में अमर जवान ज्योति से सीएम गहलोत ने हरी झंडी दिखाकर तिरंगा यात्रा रैली को रवाना किया। गहलोत ने वापस लेने की मांग की है

अग्निपथ योजना के विरोध में राजस्थान कांग्रेस की तिरंगा यात्रा, सीएम गहलोत बोले- योजना को लेकर युवाओं में आक्रोश 
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरSun, 19 Jun 2022 12:18 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान कांग्रेस कमेटी ने आज अग्निपथ योजना के विरोध तिरंगा यात्रा निकाली। जयपुर में अमर जवान ज्योति से सीएम गहलोत ने हरी झंडी दिखाकर तिरंगा यात्रा रैली को रवाना किया। रैली को अमर जवान ज्योति से बड़ी चौपड़ तक के लिए रवाना किया। इस अवसर पर सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि युवाओं के हित में योजना को वापस लेना चाहिए। अग्निपथ स्कीम देशहित में नहीं है। पीएम मोदी को जल्द से जल्द योजना वापस लेनी चाहिए। गहलोत ने कहा कि योजना को लेकर युवाओं में आक्रोश है। युवा 4 साल से तैयारी कर रहे थे। सेना की भर्ती नहीं निकल रही थी। अब युवाओं पर अग्निपथ स्कीम योजना जबरन थोप दी है। युवा आक्रोशित है। अमर जवान ज्योति पर बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता पहुंचे। रिमझिम बारिश के बीच बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता तिंरगा यात्रा रैली में शामिल हुए। रैली के के दौरान मंत्री बीडी कल्ला, प्रताप सिंह खाचरियावास, ममता भूपेश, महेश जोशी, सुभाष गर्ग और बड़ी संख्या में विधायक मौजूद रहे। 

पीसीसी चीफ डोटासरा बोले- फिर माफी मांगनी पड़ेगी 

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि मोदी सरकार ने पहले किसान पुत्रों को परेशान किया। गोलियां चलवाई। इसके बाद माफी मांगनी पड़ी। जीएसटी लागू कर व्यापारियों को परेशान किया गया। कृषि कानून की आड़ में किसानों पर अत्याचार किए गए। अग्निपथ स्कीम के माध्यम से युवाओं पर अत्याचार किया जा रही है। अग्निपथ स्कीम देशहित में नहीं है। डोटासरा ने कहा कि मोदी सरकार को अग्निपथ योजना को वापस लेना पड़ेगा। योजना से युवाओं में आक्रोश है। बिना चर्चा किेए योजना को युवाओं पर थोपा जा रहा है। डोटासरा ने कहा कि संविदा पर आधारित सेना भर्ती का विरोध किया जाएगा। 

राजस्थान में भी हुआ अग्निपथ योजना का विरोध 

उल्लेखनीय है कि इससे पहले शनिवार को गहलोत मंत्रिपरिषद ने प्रस्ताव पारित कर मोदी सरकार से योजना का वापस लेने की मांग की। साथ ही मंत्रिपरिषद ने युवाओं से हिंसक प्रदर्शन नहीं करने की अपील भी की। सीएम गहलोत की अध्यक्षता में हुई मंत्रिपरिषद की बैठक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया गया। अग्गिपथ स्कीम के विरोध में देश भर में विरोध प्रदर्शन हुए है। राजस्थान में अलवर, भरतपुर, धौलपुर, जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर और सीकर में विरोध-प्रदर्शन हुए। 

epaper