ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानराज्यसभा चुनाव से पहले राजस्थान में कांग्रेस को राहत, 6 बसपा विधायकों के दल बदल से जुड़े केस में हाईकोर्ट का दखल से इनकार; जानें मामला

राज्यसभा चुनाव से पहले राजस्थान में कांग्रेस को राहत, 6 बसपा विधायकों के दल बदल से जुड़े केस में हाईकोर्ट का दखल से इनकार; जानें मामला

राजस्थान राज्यसभा चुनाव से एक एक दिन पहले कांग्रेस को बड़ी राहत मिली है। बसपा से कांग्रेस में शामिल हुए विधायकों के विलय मामले में राजस्थान हाईकोर्ट ने हस्तक्षेप से इंकार कर दिया है।

राज्यसभा चुनाव से पहले राजस्थान में कांग्रेस को राहत, 6 बसपा विधायकों के दल बदल से जुड़े केस में हाईकोर्ट का दखल से इनकार; जानें मामला
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरThu, 09 Jun 2022 10:58 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान राज्यसभा चुनाव से एक एक दिन पहले कांग्रेस को बड़ी राहत मिली है। बसपा से कांग्रेस में शामिल हुए विधायकों के विलय मामले में राजस्थान हाईकोर्ट ने हस्तक्षेप से इंकार कर दिया है। हाईकोर्ट की जस्टिस पंकज भंडारी की खंडपीठ ने मामले में हस्तक्षेप से इंकार कर दिया है। हाल ही में बसपा ने कांग्रेस में शामिल हुए विधायकों को व्हिप जारी कर निर्दलीय प्रत्याशी सुभाष चंद्रा के पक्ष में वोट डालने के निर्देश दिए थे। कोर्ट ने याचिकाकर्ता के प्रार्थना पत्र को राज्यसभा चुनाव प्रक्रिया शुरू होने की वजह से स्वीकार करने से मना कर दिया है। बसपा के 6 विधायक 2019 में कांग्रेस में शामिल हुए थे। उन पर दलबदल का मामला चल रहा है। 

बसपा ने सभी विधायकों को जारी किया था व्हिप

उल्लेखनीय है कि 5 जून को बसपा की राज्य इकाई ने व्हिप जारी कर कांग्रेस में शामिल होने वाले 6 विधायकों को भाजपा  समर्थित निर्दलीय उम्मीदवार सुभाष चंद्रा के पक्ष में मतदाने करने के निर्देश दिए थे। बसपा प्रदेश अध्यक्ष भगवान सिंह बाबा ने मंत्री राजेंद्र गुढ़ा, लाखन मीना, दीपचंद खैरिया, संदीय यादव, जोगिंदर अवाना और वाजिब अली से व्हिप में कहा कि आप बसपा के चुनाव चिन्ह पर जीते हैं। इसलिए पार्टी व्हिप के अनुसार काम करने के लिए बाध्य है। राजस्थान की 4 राज्यसभा सीटों के लिए 10 जून को मतदान होना है। कांग्रेस ने रणदीप सुरजेवाला, मुकुल वासनिक और प्रमोद तिवारी को अपना उम्मीदवार बनाया है। जबकि भाजपा ने दूसरी सीट के लिए निर्दलीय उम्मीदवार सुभाष चंद्रा को समर्थन दिया है। ऐसे में अगर हाईकोर्ट याचिका खारिज नहीं होती तो कांग्रेस के लिए मुश्किलें खड़ी हो जाती है। 

बसपा ने सुप्रीम कोर्ट में कर रखी है अपील

राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 में बसपा पार्टी के चिन्ह पर 6 विधायक जीतकर आए थे। जीतने के बाद सभी विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए थे।  जिनके खिलाफ बसपा ने दलबदल कानून के तहत सुप्रीम कोर्ट में अपील कर रखी है। इसलिए बसपा ने 6 विधायकों ने व्हिप जारी किया है। 

epaper