ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानतंबाकू खाने वाले शिक्षक को गांव वाले कूट देंगे... बोले भजनलाल के शिक्षामंत्री मदन दिलावर

तंबाकू खाने वाले शिक्षक को गांव वाले कूट देंगे... बोले भजनलाल के शिक्षामंत्री मदन दिलावर

राजस्थान के शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने एक बार फिर बड़ा बयान दिया है। कहां- अगर कोई टीचर ऐसा करता है और गांव वाले उन्हें कूट दें तो इसमें पुलिस भी कार्रवाई नहीं कर पाएगी। शिक्षक नाराज हो सकते है।

तंबाकू खाने वाले शिक्षक को गांव वाले कूट देंगे... बोले भजनलाल के शिक्षामंत्री मदन दिलावर
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरTue, 27 Feb 2024 05:19 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने एक बार फिर बड़ा बयान दिया है। दिलावर ने कहा कि पिछले 5 सालों में किसी टीचर पर दुराचार या रेप का आरोप हो तो उनकी अवैध संपत्ति चिह्नित कर उस पर बुलडोजर चलाया जाए। स्कूल टाइम में कोई भी टीचर नमाज पढ़ने या मंदिर नहीं जाएगा। अवैध मदरसों को तुरंत बंद किया जाए। कोई भी टीचर स्कूल में तम्बाकू सेवन नहीं करेगा। अगर कोई टीचर ऐसा करता है और गांव वाले उन्हें कूट दें तो इसमें पुलिस भी कार्रवाई नहीं कर पाएगी। उन्होंने कहा कि कोई भी शिक्षक को स्कूल टाइम में पूजा करने और नमाज पढ़ने नहीं जाएगा। मंत्री मदन दिलावर ने यह बातें सोमवार को बाड़मेर जिला मुख्यालय पर आयोजित शिक्षा विभाग और पंचायती राज विभाग के अधिकारियों की बैठक में कहीं। जानकारों का कहना है कि शिक्षामंत्री के बयान से शिक्षकों की नाराजगी बढ़ सकती है। 

सिगरेट समेत नशे वाली सामग्री लेकर न आए

मंत्री दिलावर ने बैठक में एसपी को निर्देश देते हुए कहा कि हमारे शिक्षक बहुत अच्छे हैं, लेकिन कुछ शिक्षकों ने शिक्षा विभाग को बदनाम कर रखा है। पांच साल में दुष्कर्म और दुराचार के आरोप में घिरे शिक्षकों की सूची बनाओ। इनकी अवैध संपत्तियों पर बुलडोजर चलाया जाए। मंत्री ने अधिकारियों से कहा- मदरसों का औचक निरीक्षण किया जाए, जहां निमयों का पालन नहीं हो रहा है, वहां सख्ती बरती जाए। जो मदरसे अवैधा पाए जाते हैं उन्हें तत्काल बंद कराया जाए। शिक्षा विभाग के अधिकारी रोजाना अप-डाउन नहीं करेंगे, जो वहां पदस्थ है, वहीं रहकर नौकरी करे। सरकारी कार्यों को लेकर आना-जाना हो तो उसे रजिस्टर में दर्ज करें। स्कूल में कोई भी शिक्षक या स्टाफ तंबाकू, गुटखा और  सिगरेट समेत नशे वाली सामग्री लेकर न आए। स्कूलों से 200 मीटर परिधि में नशीली सामग्री बेचना मना है, इसका सख्ती से पालन किया गयाद्ध। अगर, ऐसा किया तो हो सकता है कि कोई गांव वाला आपको कूट दे। ऐसे में पुलिस वाले भी कार्रवाई नहीं करेंगे, क्योंकि अपराधी तो आप खुद ही हैं।

शिक्षक स्कूल में नमाज और पूजा नहीं करेगा

कोई भी शिक्षक स्कूल में नमाज और पूजा नहीं करेगा और न ही स्कूल समय में मंदिर-मस्जिद जाएगा। इसे लेकर आदेश भी जारी किया गया है। हम सभी धर्मों का सम्मान करते हैं, लेकिन बच्चों की शिक्षा के साथ खिलवाड़ नहीं होने देंगे।हर स्कूल में प्रार्थना के बाद सूर्य नमस्कार कराया जाए, इसमें बच्चों के साथ प्रिसिंपल, शिक्षक भी शामिल होंगे।। सभी को सरकार द्वारा निर्धारित यूनिफॉर्म में ही स्कूल आना पड़ेगा। हमें किसी के पहनावे से दिक्कत नहीं है। सभी को नियम का पालन करना पड़ेगा।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें