DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   राजस्थान  ›  हिम्मत हार गए अशोक गहलोत! कहा- बीजेपी ने बनाया हिंदुत्व का माहौल, शायद हमें वोट न मिले

राजस्थानहिम्मत हार गए अशोक गहलोत! कहा- बीजेपी ने बनाया हिंदुत्व का माहौल, शायद हमें वोट न मिले

लाइव हिन्दुस्तान टीम,जयपुर।Published By: Himanshu Jha
Fri, 09 Apr 2021 04:54 PM
हिम्मत हार गए अशोक गहलोत! कहा- बीजेपी ने बनाया हिंदुत्व का माहौल, शायद हमें वोट न मिले

राजस्थान के मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अशोक गहलोत ने आज अपने एक संबोधन के दौरान कहा कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के लोग सिर्फ हिंदुत्व की बात करते हैं। इससे देश में हिंदुत्व का माहौल बन गया है। उन्होंने कहा कि इससे हम भी घबरा गए हैं। शायद लोग हमें लोग वोट नहीं देंगे, लेकिन हम डटे रहेंगे।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के इस बयान पर पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता राज्यवर्धन सिंह राठौर ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा, 'भय नहीं भरोसा जाग रहा है! BJP और RSS के कार्यकर्ता, पूर्ण निष्ठा से राष्ट्रसेवा में जुटे हैं। इसीलिए देश में राष्ट्रवाद, हिंदुत्व और 'सबका साथ, सबका विकास' वाली राजनीति का माहौल बना है।'

उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में कहा, 'जनता BJP को चुन रही है क्योंकि उसे BJP की कार्यशैली और "राष्ट्र-प्रथम, पार्टी-द्वितीय और स्वयं-आखिर" का सिद्धांत पसंद हैं। BJP का देश के अंतिम व्यक्ति तक, बिना किसी भेद-भाव के कल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुँचाने का ट्रैक रिकॉर्ड जनता को पसंद है। डर का नहीं, विश्वास का माहौल है।'

निडर होकर अपनी विचारधारा पर चलें एनएसयूआई कार्यकर्ता: गहलोत
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को भाजपा, आरएसएस पर निशाना साधते हुए भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) कार्यकर्ताओं का आहृवान किया कि हमें निडर होकर हमारी विचारधारा पर चलना है और कामयाब वही होता है जो सच्चाई पर चलता है। एनएसयूआई के 51वें स्थापना दिवस पर राजस्थान एनएसयूआई कार्यालय पर आयोजित समारोह को आनलाइन संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा,'भाजपा और आरएसएस वाले खाली हिन्दुत्व की बात करते हैं। तो माहौल हिन्दुत्व का बन गया है तो हम भी घबरा गये हैं। वोट देंगे ही नहीं हमें लोग। घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है।'

गहलोत ने आगे कहा, '' हमें निडर होकर के हमारी विचारधारा पर चलना है और कामयाब वही होता है जो सच्चाई पर चलता है। सच्चाई हमारे पक्ष में है उनके (भाजपा, आरएसएस) पक्ष में नहीं है।' उन्होंने कहा कि तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 14 बैंकों का राष्ट्रीयकरण एक झटके में कर दिया। 14 बैंकों को सरकारी बैंक बना दिया। गहलोत ने कहा,' रात को घोषणा की.. मोदी की तरह नोटबंदी की नहीं की नोटबंदी आज दुख दे रही है देश को.. आर्थिक स्थिति बिगड़ गई है।'

संबंधित खबरें