ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानइश्क में रोड़ा बने पति का लवर के साथ मिलकर कत्ल, दिल्ली में मारा बानसूर में दफनाया, दोनों CRPF में तैनात

इश्क में रोड़ा बने पति का लवर के साथ मिलकर कत्ल, दिल्ली में मारा बानसूर में दफनाया, दोनों CRPF में तैनात

अलवर में पत्नी ने प्रेम प्रसंग में रोड़ा बन रहे पति को प्रेमी के साथ मिलकर मौत के घाट उतार दिया। आरोपी और मृतक संजय जाट की पत्नी दोनों ही सीआरपीएफ में तैनात हैं। पढ़ें यह रिपोर्ट...

इश्क में रोड़ा बने पति का लवर के साथ मिलकर कत्ल, दिल्ली में मारा बानसूर में दफनाया, दोनों CRPF में तैनात
Krishna Singhलाइव हिंदुस्तान,अलवरSun, 06 Aug 2023 07:55 PM
ऐप पर पढ़ें

अलवर में पत्नी ने प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति को मौत के घाट उतार दिया। आरोपी और मृतक संजय जाट की पत्नी दोनों ही सीआरपीएफ में तैनात हैं। दोनों ने मिलकर वारदात को दिल्ली में अंजाम दिया। बाद में शव को अलवर के बानसूर में खाली प्लॉट में दफना दिया। आरोपी प्रेमी बानसूर के बिसालू के मेहताला की ढाणी का रहने वाला है और उड़ीसा में सीआरपीएफ में तैनात है। वहीं प्रेमिका भी सीआरपीएफ दिल्ली में तैनात है। दोनों ने मिलकर 31 जुलाई की शाम को दिल्ली में युवक की हत्या कर दी थी। यही नहीं बानसूर में शव को दबा दिया था।

मामला भरतपुर के डीग के खोह थाने का है। बताया जाता है कि पूनम जाट पत्नी संजय जाट ने सीआरपीएफ में तैनात अपने प्रेमी बानसूर निवासी रामप्रताप पुत्र मातादीन गुर्जर के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने मामले की छानबीन में पाया कि दोनों का पिछले ढाई साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों की मुलाकात श्रीनगर एयरपोर्ट पर ढाई साल पहले हुई थी। मृतक संजय जाट को जब इस प्रेम के बारे में पता चला तो उसने पत्नी को रामप्रताप से मिलने जुलने से मना कर दिया। 

इसके बाद संजय जाट की पत्नी ने अपने प्रेमी को पूरी बात बताई। प्रेम में बार-बार रोड़ा बन रहे पति को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया। फिर पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर 31 अगस्त को संजय जाट को मौत के घाट उतार दिया। महिला ने 31 जुलाई को पति संजय जाट को फोन कर के दिल्ली बुलाया था। फिर शाम को प्रेमी के साथ मिलकर पति की गला दबाकर हत्या कर दी थी। इसके बाद शव को बानसूर बाईपास पर एक खाली प्लॉट में दफना दिया। 

पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर शव को जमीन से बाहर निकाला। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है। मामले का खुलासा तब हुआ जब मृतक कई दिनों से लापता था। भरतपुर पुलिस दोनों ही आरोपियों को बानसूर लेकर आई और जहां शव दबाया था उस जगह पहुंच शव को बाहर निकालने का काम शुरू किया है।