ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानअजमेर रेलवे स्टेशन के सामने फटा सिलेंडर, अफरातफरी; आसपास के ढाबे चपेट में आए

अजमेर रेलवे स्टेशन के सामने फटा सिलेंडर, अफरातफरी; आसपास के ढाबे चपेट में आए

राजस्थान के अजमेर में रेलवे स्टेशन के सामने एक ढाबे की रसोई में शॉर्ट सर्किट से आग गई। कुछ ही मिनटों बाद आग एलपीजी सिलेंडर तक पहुंची। देखते ही देखते सिलेंडर में ब्लास्ट हो गया। अधिकारी मौके पर पहुंचे।

अजमेर रेलवे स्टेशन के सामने फटा सिलेंडर, अफरातफरी; आसपास के ढाबे चपेट में आए
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरSun, 26 May 2024 03:11 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के अजमेर में रेलवे स्टेशन के सामने एक ढाबे की रसोई में शॉर्ट सर्किट से आग गई। इसके कुछ ही मिनटों बाद आग एलपीजी सिलेंडर तक पहुंची। देखते ही देखते सिलेंडर में ब्लास्ट हो गया। आसपास के 2 और ढाबे भी आग की चपेट में आ गए। हादसा सुबह साढ़े 10 बजे हुआ। हालांकि, भीषण आग और गैस सिलेंडर के फटने के बावजूद कोई जनहानि नहीं हुई। बता दें कि शहर का सबसे व्यस्ततम मार्ग पर यह रेस्टोरेंट स्थित है। हादसे की सूचना मिलने के बाद समीप ही क्लॉक टावर थाना पुलिस मौके पर पहुंची। वहीं सूचना के बाद पहुंची फायर ब्रिगेड कर्मियों ने काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। आग की वजह से आसपास की तीन दुकानों और बाहर खड़ी बुलेट बाइक भी आग की भेंट चढ़ गई. आगजनी की इस घटना में दुकानों को लाखों का नुकसान हुआ है।

गैस सिलेंडर फटने से सहमे लोग

हादसे से 50 मीटर की दूरी पर स्थित एक गारमेंट्स की दुकान के मालिक अनूप शर्मा ने बताया कि आग लगने से आस पास के क्षेत्र में अफरा तफरी मच गई. दुकानों के बाहर खड़े वाहनों को तुरंत हटा लिया गया। दुकानों पर मौजूद लोग भी तुरंत बाहर आ गए और दूर खड़े हो गए। इस आपाधापी में एक बुलेट बाइक को नही हटाया जा सका। आग इतनी तेजी से फैल रही थी कुछ ही देर में उसने विकराल रूप ले लिया। उन्होंने बताया कि आग सिलेंडर के भभकने से लगना सम्भव है। दरअसल आग लगने के बाद तेज धमाके से गैस सिलेंडर फट गया. दूर तक गैस सिलेंडर फटने की आवाज सुनी गई थी। इस विस्फोट से बाजार में सभी दुकानदार और मौजूद लोग सहम गए थे। विधानसभा अध्यक्ष वासुदेव देवनानी हादसे की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे और हालात का जायजा लिया।

 रेलवे स्टेशन के सामने की ओर एक दर्जन से भी अधिक रेस्टोरेंट और भोजनालय हैं। अजमेर में सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह है। इस वजह से रोज हजारों लोग दरगाह में जियारत के लिए आते हैं। इनमें ज्यादातर लोग ट्रेन से सफर करके आते हैं। रेलवे स्टेशन के सामने से ही दरगाह जाने का भी रास्ता है। यही वजह है कि यहां दिन भर जायरीन का आना जाना लगा रहता है। वही अजमेर शहर का मुख्य बाजार मदार गेट भी यही पर है। हादसे के बाद सामने आया कि आग लगने के साथ ही रेस्टोरेंट से तीन गैस सिलेंडर बाहर निकल गए थे वह सभी घरेलू गैस सिलेंडर थे जबकि रेस्टोरेंट में जो सिलेंडर भभका था और फटा था वह भी घरेलू गैस सिलेंडर ही था, यानी इस हादसे ने घरेलू गैस सिलेंडर के ब्लैक होने की भी पोल खोल दी है।