ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानहमें बहुमत नहीं मिला तो; टाइट फाइट की बात कबूल कांग्रेस ने बताया 'प्लान B'

हमें बहुमत नहीं मिला तो; टाइट फाइट की बात कबूल कांग्रेस ने बताया 'प्लान B'

राजस्थान में हर 5 साल में सरकार बदलने का रिवाज कायम रहेगा या जनता कांग्रेस का राज खत्म करके भाजपा को मौका देगी? यह 3 दिसंबर को ही साफ होगा फिलहाल एग्जिट ने कांग्रेस और बीजेपी की धड़कने बढ़ा दी हैं।

हमें बहुमत नहीं मिला तो; टाइट फाइट की बात कबूल कांग्रेस ने बताया 'प्लान B'
Sudhir Jhaलाइव हिन्दुस्तान,जयपुरFri, 01 Dec 2023 02:49 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में हर 5 साल में सरकार बदलने का रिवाज कायम रहेगा या जनता कांग्रेस का राज खत्म करके भाजपा को मौका देगी? 3 दिसंबर को इसका सटीक जवाब मिलने से पहले गुरुवार शाम आए तमाम एग्जिट पोल्स ने दोनों ही दलों की धड़कनें बढ़ा दी हैं। राजस्थान पर आए 10 एग्जिट पोल्स के नतीजों में भारी अंतर की वजह से कोई साफ तस्वीर बनती नहीं दिख रही है। हालांकि, औसतन सभी एग्जिट पोल्स का अनुमान है कि भाजपा और कांग्रेस में करीबी मुकाबला हो सकता है, जिसमें भगवा दल को बढ़त नजर आ रही है।

एग्जिट पोल्स के नतीजे देखने के बाद भाजपा और कांग्रेस की नजरें निर्दलीय उम्मीदवारों और छोटे दलों पर टिकी है जो किंगमेकर की भूमिका में आ सकते हैं। दोनों दलों की ओर से इस दिशा में की जा रही कोशिशों के बीच गहलोत सरकार के ताकतवर मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने 'प्लान बी' को खुलकर स्वीकार किया है। उन्होंने कांग्रेस को बहुमत मिलने की उम्मीद जाहिर करते हुए कहा कि यदि जादुई आंकड़े तक पार्टी नहीं पहुंच पाई तो भी सरकार बनाने की कोशिश की जाएगी। 

खाचरियावास से इंडिया टीवी पर एक इंटरव्यू के दौरान पूछा गया कि क्या उनकी पार्टी विजेता विधायकों को टूट से बचाने के लिए होटल बुक करा रही है? खाचरियावास ने खुद को साफगोई से बोलने वाला बताते हुए कहा, 'यदि 100 से 90 के बीच आंकड़ा आता है तो होटल और रिसॉर्ट तो बीजेपी और कांग्रेस दोनों बुक करा लेंगे। आंकड़ा 100 से 90 के बीच आता है तो हर पार्टी कोशिश करती है कि निर्दलीय और अन्य साथ आएं। मेरी आदत है, मैं खुलकर बात करता हूं।' हालांकि उन्होंने कहा कि उन्हें जो रिपोर्ट मिली है उसके मुताबिक कांग्रेस 100 के पार जा रही है।

नेक टू नेक मुकाबला, कांग्रेस भी अलर्ट पर: खाचिरियावास
खाचरियावास ने कहा, 'यदि हम 100 के पार नहीं जा रहे हैं तो हमें निर्दलीय और छोटी पार्टियों की जरूरत पड़ेगी। बीजेपी भी कोशिश करेगी। कोशिश करना गुनाह नहीं है। अलर्ट मोड पर रहना हर पार्टी की जिम्मेदारी है। अलर्ट मोड पर कांग्रेस भी रहेगी और बीजेपी भी रहेगी, क्योंकि अब नेक टू नेक पर आ गया है। एग्जिट पोल भी बता रहा है। कुछ में बीजेपी जीत रही है और कुछ में हम जीत रहे हैं।' 

'एक भी सीट ज्यादा मिली तो कांग्रेस की सरकार'
त्रिकोणीय नतीजा आने पर कांग्रेस क्या करेगी, इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, 'हंग असेंबली हुई तो हम निर्दलीय और अन्य पार्टियों से जीतकर आने वाले लोगों से बात करेंगे। कोशिश करेंगे सरकार बनाने की। हमारे पास मैजिक आंकड़ा नहीं आया तो हम दूसरों से समर्थन लेने की कोशिश करेंगे। कैसे भी सरकार बनाने की कोशिश करेंगे। हर आदमी को करना भी चाहिए। राजनीति में तो यह सब चलता है। यह तब की बात है जब हमें आंकड़ा नहीं आया। यदि हमारी एक भी सीट बीजेपी से ज्यादा आती है तो हम सरकार बनाएंगे।' खाचरियावास ने कहा कि 3 दिसंबर को नतीजे के बाद तय होगा कि मुख्यमंत्री कौन होगा और कांग्रेस की सरकार बनी तो राहुल गांधी और मल्लिकार्जुन खरगे तय करेंगे कि सीएम कौन होगा।  

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें