ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानराजस्थान में ACB का ऐक्शन, पार्षद समेत 3 गिरफ्तार, क्या था मामला?

राजस्थान में ACB का ऐक्शन, पार्षद समेत 3 गिरफ्तार, क्या था मामला?

राजस्थान के जयपुर में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) की एक टीम ने 80 हजार रुपये की रिश्वत के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। तीनों लोगों पर काम के बदले रिश्वत लेने का आरोप है।

राजस्थान में ACB का ऐक्शन, पार्षद समेत 3 गिरफ्तार, क्या था मामला?
Mohammad Azamपीटीआई,जयपुरSun, 19 Nov 2023 03:24 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के जयपुर में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) की एक टीम ने 80 हजार रुपये की रिश्वत के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। शनिवार को नगर निगम हैरिटेज की वार्ड संख्या 33 के पार्षद, प्रवर्तन शाखा के उपनिरीक्षक और कॉन्स्टेबल को गिरफ्तार किया है। एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक हेमंत प्रियदर्शी (कार्यवाहक महानिदेशक) ने एक बयान में बताया कि शिकायतकर्ता ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि उसके निर्माणाधीन घर का काम चालू रखने के बदले में पार्षद उमेश शर्मा, प्रवर्तन शाखा के उपनिरीक्षक अनिल सिंह, कॉन्स्टेबल भवानी सिंह ने एक लाख रूपये की रिश्वत मांगी थी।

इस मामले की जानकारी देते हुए अधिकारी ने बताया कि शिकायत के सत्यापन के बाद कॉन्स्टेबल भवानी सिंह को शिकायतकर्ता से 80 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हुए हाथ गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि मामले के संबंध में पार्षद उमेश शर्मा और उपरिनीक्षक अनिल सिंह को भी संलिप्तता के आधार पर गिरफ्तार किया गया है। अधिकारी ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ जारी है। उन्होंने बताया कि ब्यूरो ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है और जांच की जा रही है।

क्या हैं आरोप
एसीबी की टीम ने रिश्वत लेने के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में दो पुलिसकर्मी और एक पार्षद को गिरफ्तार किया है। इन तीनों पर ही काम करवाने के बदले 80 हजार रुपए रिश्वत लेने का आरोप लगा है। राजस्थान के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने इन तीनों की गिरफ्तारी की है। इस गिरफ्तारी के बाद बात सामने आई है कि इन तीनों ने घर का काम चालू रखने के लिए 1 लाख रुपए की रिश्वत मांगी थी। इसी मामले में एसीबी ने तीनों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में तीनों आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। बता दें कि इस मामले में तीनों के खिलाफ शिकायत मिली थी, जिसके बाद टीम ऐक्शन में आई थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें