ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानराजस्थान के कितने लोग बदलना चाहते हैं कांग्रेस की सरकार? सामने आया सबसे ताजा सर्वे

राजस्थान के कितने लोग बदलना चाहते हैं कांग्रेस की सरकार? सामने आया सबसे ताजा सर्वे

abp c voter survey: सर्वे में राजस्थान के लोगों से पूछा गया कि क्या वो सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार को बदलना चाहते हैं? 49.1 फीसदी लोगों ने बताया कि वो सीएम गहलोत की सरकार को बदलना चाहते हैं।

राजस्थान के कितने लोग बदलना चाहते हैं कांग्रेस की सरकार? सामने आया सबसे ताजा सर्वे
Devesh Mishraलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीSun, 29 Oct 2023 11:14 PM
ऐप पर पढ़ें

Rajasthan chunav abp c voter survey: चुनाव आयोग ने राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग की तारीख का ऐलान कर दिया है। सूबे में 25 नवंबर को मतदान होने हैं। राज्य में दिनोंदिन सियासी चहलकदमियां बढ़ती जा रही हैं। राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है। एक सर्वे में राज्य के लोगों से पूछा गया कि क्या वो कांग्रेस सरकार को बदलना चाहते हैं? सर्वे के आंकड़े हैरान कर देने वाले हैं।

आधी आबादी कांग्रेस से नाराज
एबीपी न्यूज के लिए सी वोटर ने यह सर्वे किया है। सर्वे में राजस्थान के लोगों से पूछा गया कि क्या वो सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार को बदलना चाहते हैं? राज्य के 49.1 फीसदी लोगों ने बताया कि वो सीएम गहलोत की सरकार को बदलना चाहते हैं। वहीं 21.8 परसेंट लोगों ने कहा कि वो कांग्रेस से नाराज हैं लेकिन सरकार नहीं बदलना चाहते हैं। सर्वे के मुताबिक, 29.1 फीसदी लोगों ने कहा कि न तो वो कांग्रेस से नाराज हैं और न ही वो सरकार बदलना चाहते हैं। यानी सर्वे के आंकड़ों की मानें तो राज्य की आधी आबादी (49.1 फीसदी) लोग कांग्रेस सरकार से नाराज हैं।

41 फीसदी लोगों पर नहीं चला गहलोत का जादू
सर्वे में राजस्थान के लोगों से सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार के प्रदर्शन के बारे में भी पूछा गया। सर्वे में राज्य के 42.1 फीसदी लोगों ने सरकार के काम को 'अच्छा' बताया है। वहीं 16.9 परसेंट लोगों ने सीएम गहलोत के काम को 'औसत' बताया है। राज्य के 41 फीसदी लोगों ने असंतोष व्यक्त करते हुए कांग्रेस के काम को 'खराब' बताया है। यानी सर्वे की मानें तो राज्य के 41 परसेंट लोगों पर सीएम गहलोत का जादू नहीं चल पाया है।

चुनाव में सबसे बड़ा मुद्दा क्या?
सर्वे में राजस्थान के लोगों से पूछा गया कि चुनाव में उनके लिए सबसे बड़ा मुद्दा क्या है? सबसे अधिक वोट बेरोजगारी के फेवर में पड़े। राज्य के 34 फीसदी लोगों ने बताया कि आगामी चुनाव में बेरोजगारी सबसे बड़ा मुद्दा है। 17 फीसदी लोगों ने किसान को सबसे बड़ा मुद्दा बताया। वहीं 14 परसेंट लोगों ने बिजली, पानी और सड़क को सबसे बड़ा मुद्दा बताया। करप्शन को 13 फीसदी लोगों ने सबसे बड़ा मुद्दा बताया है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें