फोटो गैलरी

Hindi News पंजाबपेट्रोल भरवाने पहुंचे युवक से हो गई बहस, गुस्से में पंप मालिक ने मार दी गोली

पेट्रोल भरवाने पहुंचे युवक से हो गई बहस, गुस्से में पंप मालिक ने मार दी गोली

पंजाब के फरीदकोट जिले के गांव औलख में पेट्रोल पंप पर ​तेल डलवाने आए युवक की पैट्रोल पंप मालिक से बहस हो गई। बात इतनी बढ़ गई कि पंप मालिक ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर उसे गोली मार दी।

पेट्रोल भरवाने पहुंचे युवक से हो गई बहस, गुस्से में पंप मालिक ने मार दी गोली
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,चंडीगढ़Tue, 02 Jan 2024 11:33 PM
ऐप पर पढ़ें

ट्रक चालकों की हड़ताल की वजह से पंजाब में पेट्रोल पंपों पर अफरा-तफरी मची है। फरीदकोट जिले के गांव औलख में पेट्रोल पंप पर ​तेल डलवाने आए युवक की पैट्रोल पंप मालिक से बहस हो गई। बात इतनी बढ़ गई कि पंप मालिक ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर उसे गोली मार दी। गोली उसके पैर में गोली लगी है। उसे तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया। घायल की पहचान अमरेंद्र सिंह के रूप में हुई है।

मिली जानकारी के अनुसार, मंगलवार शाम औलख गांव स्थित फरीद किसान सेवा केंद्र पेट्रोल पंप पर वह तेल डलवाने आया था। लेकिन यहां भारी भीड़ लगी थी। इसी दौरान अमरेंद्र की पंप मालिक से बहस हो गई। मामला इतना बढ़ गया कि पेट्रोल पंप मालिक ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से फायरिंग कर दी। गोली उसके पैर में गोली लगी है। सूचना के बाद कोटकपूरा के डीएसपी शमशेर सिंह शेरगिल और थाना सदर कोटकपूरा के एसएचओ चमकौर सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पंजाब में डीजल और पेट्रोल के वितरण की निगरानी के लिए राज्य और जिलों के वरिष्ठ अधिकारियों की एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई गई। बैठक के बाद पंजाब के गृह सचिव गुरकीरत कृपाल सिंह ने कहा कि लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि राज्य में पैट्रोल और डीजल का पर्याप्त भंडार है। उन्होंने कहा कि लगभग 4,100 किलोलीटर पैट्रोल की दैनिक खपत के मुकाबले राज्य भर के विभिन्न पैट्रोल पंपों पर पैट्रोल का स्टॉक लगभग 22,600 किलोलीटर है और समय-समय पर इसकी भरपाई की जाएगी।

गौरतलब है कि राज्य में प्रतिदिन लगभग 10,000 किलोलीटर डीजल की खपत होती है और वर्तमान में फिलिंग स्टेशनों का स्टॉक 30,000 किलोलीटर से अधिक है और विभिन्न टर्मिनलों पर 90,000 किलोलीटर डीजल भी उपलब्ध है। सभी टर्मिनल पाइपलाइनों के माध्यम से संबंधित रिफाइनरियों से जुड़े हुए हैं और इन टर्मिनलों में पैट्रोलियम उत्पादों का निरंतर प्रवाह होता है। 

कुछ फिलिंग स्टेशनों में पैट्रोल या डीजल की भारी कमी के बारे में टिप्पणी करते हुए गृह सचिव ने कहा कि किसी भी समय सभी फिलिंग स्टेशनों पर स्टॉक एक समान नहीं होता। कुछ फिलिंग स्टेशन जीरो लेवल पर हो सकते हैं, अन्य में पूरा स्टॉक हो सकता है। इसलिए कुछ फिलिंग स्टेशनों की स्टॉक स्थिति का उपयोग राज्य में कुल स्टॉक स्थिति के लिए नहीं किया जाना चाहिए।

वहीं, ट्रक चालकों की चल रही हड़ताल से हरियाणा में बिगड़ रहे हालातों को देखते मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मंगलवार रात को बैठक की। बैठक में हरियाणा सरकार के उच्चस्तरीय अधिकारी मौजूद रहे। बैठक में हड़ताल से प्रदेश में असर की समीक्षा की गई और राशन और पैट्रोल-डीजल की आपूर्ति प्रभावित न हो, इसकी व्यवस्था की जाएगी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल का कहना है कि प्रदेश के लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। मुख्यमंत्री की ओर से प्रदेश के सभी जिला उपायुक्तों को सख्त निर्देश जारी किए गए। इसके अलावा खाद एवं आपूर्ति विभाग के अफसर के साथ मुख्यमंत्री ने बैठक कर तेल कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत की। मुख्यमंत्री ने प्रदेश की जनता को आश्वस्त किया कि किसी भी तरह से कोई दिक्कत नहीं होने दी जाएगी।

रिपोर्ट: मोनी  देवी

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें