फोटो गैलरी

Hindi News पंजाबविवादों में क्यों IAS परमपाल कौर का इस्तीफा, CM ने क्यों कहा- खतरे में पड़ सकती है जिंदगी भर की कमाई? 

विवादों में क्यों IAS परमपाल कौर का इस्तीफा, CM ने क्यों कहा- खतरे में पड़ सकती है जिंदगी भर की कमाई? 

Punjab News: मुख्यमंत्री भगवंत मान ने एक्स पर पोस्ट कर लिखा, "आईएएस अधिकारी के रूप में परमपाल कौर जी का इस्तीफा पंजाब सरकार ने स्वीकार नहीं किया है। इसके बाद उनका इस्तीफा विवादों में घिर गया है।

विवादों में क्यों IAS परमपाल कौर का इस्तीफा, CM ने क्यों कहा- खतरे में पड़ सकती है जिंदगी भर की कमाई? 
Pramod Kumarमोनी देवी, हिन्दुस्तान,चंडीगढ़Thu, 11 Apr 2024 10:02 PM
ऐप पर पढ़ें

पंजाब में अकाली दल के कद्दावर नेता और बादल सरकार में मंत्री रहे सिकंदर सिंह मलूका की IAS बहू परमपाल कौर अपने पद से इस्तीफा देकर पति गुरप्रीत सिंह मलूका संग गुरुवार को भाजपा में शामिल हो गईं। लेकिन उनकी स्वैच्छिक सेवानिवृति पर विवाद छिड़ गया है। पंजाब सरकार की तरफ से कहा गया है कि परमपाल कौर का इस्तीफा अभी तक मंजूर नहीं किया गया है। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने उन्हें इस पर चेतावनी भी दी है। 

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने एक्स पर पोस्ट कर लिखा, "आईएएस अधिकारी के रूप में परमपाल कौर जी का इस्तीफा पंजाब सरकार ने स्वीकार नहीं किया है। बीबा जी जितनी जल्दी आईएएस बनने की थी, पद छोड़ने के कई तौर तरीके होते हैं। कृपया इस्तीफा देने का तरीका समझें। वरना जिंदगी भर की कमाई खतरे में पड़ सकती है।"

मुख्यमंत्री के कहने का मतलब था कि परमपाल कौर ने जल्दबाजी में भाजपा ज्वाइन की है। उन्हें कम से कम अपना इस्तीफा स्वीकार होने तक का इंतजार करना चाहिए था। मुख्यमंत्री के इस ट्वीट के बाद परमपाल कौर मलूका के भाजपा में शामिल होने पर नया विवाद छिड़ सकता है। राज्य सरकार और केंद्र की सत्ताधारी भाजपा के बीच परमपाल कौर की बीजेपी ज्वाइनिंग को लेकर नए टकराव की स्थिति बन सकती है। 

इस्तीफे के लिए मुख्यमंत्री की मंजूरी जरूरी
अप्रैल के पहले सप्ताह में पंजाब इंडस्ट्री विकास निगम की एमडी और आईएएस अधिकारी परमपाल कौर सिद्धू ने स्वैच्छिक सेवानिवृति का आवेदन दिया था। उस दौरान वह छुट्टी पर चल रही थीं। परमपाल कौर आईएएस हैं इसलिए मुख्यमंत्री की मंजूरी मिलते ही इस्तीफा भारत सरकार के कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग को भेज दिया जाता लेकिन अभी पंजाब सरकार ने इस्तीफा मंजूर ही नहीं किया। परमपाल सिद्धू 2011 बैच की आईएएस अधिकारी हैं।

पूर्व मंत्री मलूका की पूर्व IAS बहू भाजपा में शामिल, बठिंडा में देंगी बादल परिवार की बहू को टक्कर

भारत सरकार ने स्वीकार किया मेरा इस्तीफा: परमपाल
दूसरी तरफ परमपाल कौर का दावा है कि भारत सरकार ने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। उन्होंने खुद कहा कि उनका इस्तीफा भारत सरकार ने कल ही स्वीकार कर लिया था और उन्हें लिखित नोटिस भी दे दिया गया था। बकौल परमपाल कौर इसके बाद ही उन्होंने अपने पति गुरप्रीत सिंह मलूका के साथ बीजेपी में शामिल होने का फैसला किया है।

बठिंडा से लड़ सकती हैं लोकसभा चुनाव 
ऐसी चर्चा है कि परमपाल बठिंडा सीट से भाजपा के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ सकती हैं। जबसे  परमपाल ने वीआरएस के लिए आवेदन दिया था, तभी से उनके बीजेपी ज्वाइन करने की अटकलें चल रही थीं। उनके पति गुरप्रीत पंजाब में अकाली दल के कद्दावर नेता सिंकदर सिंह मलूका के बेटे हैं। गुरप्रीत काफी लंबे समय से अकाली दल से नाराज चल रहे थे। जिसके बाद उन्होंने आज अकाली दल का साथ छोड़ पत्नी परमपाल के साथ भाजपा का दामन थाम लिया। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें