फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News पंजाबहफ्ते भर में दूसरी बार चंडीगढ़ एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी, हरकत में सुरक्षा एजेंसियां; शहर में सनसनी

हफ्ते भर में दूसरी बार चंडीगढ़ एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी, हरकत में सुरक्षा एजेंसियां; शहर में सनसनी

Chandigarh Airport: चण्डीगढ़ में एक हफ्ते में बम की यह दूसरी धमकी दी गई है। 12 जून को गवर्नमेंट मेडिकल रिसर्च अस्पताल सेक्टर-32 के मेंटल हेल्थ इंस्टीट्यूट और एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी मिली थी।

हफ्ते भर में दूसरी बार चंडीगढ़ एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी, हरकत में सुरक्षा एजेंसियां; शहर में सनसनी
Pramod Kumarमोनी देवी, हिन्दुस्तान,चंडीगढ़Wed, 19 Jun 2024 09:26 PM
ऐप पर पढ़ें

चंडीगढ़ एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी मिलने से सनसनी फैल गई। एयरपोर्ट अथॉरिटी को ईमेल भेजकर धमकी दी गई थी। इस ईमेल के बाद चंडीगढ़ एयरपोर्ट अथॉरिटी ने इसकी सूचना मोहाली पुलिस को दी। मोहाली पुलिस और सीआईएसएफ ने जांच अभियान चलाया था लेकिन यहां पर ऐसा कुछ भी नहीं मिला। इसके बाद फ्लाइट सुचारू रूप से चालू कर दी गई हैं। एयरपोर्ट अथॉरिटी का इस मामले में कोई बयान नहीं आया है। 

बैग में बम होने की बात कही
एयरपोर्ट अथॉरिटी को ई मेल भेजने वाले ने एक बैग में दो बम होने की बात कही थी।  सीआईएसएफ की तरफ से  तलाशी अभियान चलाया गया लेकिन तलाशी अभियान के बाद ऐसी कोई भी संदिग्ध वस्तु नहीं मिली और ना ही कोई लावारिस बैग मिला। 

एक हफ्ते में दूसरी धमकी
चण्डीगढ़ में एक हफ्ते में बम की यह दूसरी धमकी दी गई है। इस से पहले 12 जून को गवर्नमेंट मेडिकल रिसर्च अस्पताल सेक्टर-32 के मेंटल हेल्थ इंस्टीट्यूट और एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी।ईमेल के जरिए ये धमकी दी गई थी। मेल में लिखा गया था कि अस्पताल में बम रखा गया है। जल्द ही धमाका होगा और तुम सब मारे जाओगे। इसके बाद चंडीगढ़ पुलिस, बम स्क्वायड, क्राइम ब्रांच सहित अन्य कई जांच टीमें अस्पताल में पहुंच गई। 

इंस्टीट्यूट में करीब 15 मरीज और अन्य स्टाफ था लेकिन धमकी आने के बाद पूरे संस्थान को खाली करवा दिया गया और मरीजों को सेक्टर 48 के अस्पताल में शिफ्ट किया गया। पूरे इंस्टीट्यूट की तलाशी ली गई थी लेकिन कुछ भी संदिग्ध बम जैसा नहीं मिला था। चंडीगढ़ एयरपोर्ट को भी बम से उड़ाने की धमकी मिलने के बाद सुरक्षा पहले से ज्यादा पुख्ता कर दी गई थी।