फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News पंजाबकंगना रनौत के थप्पड़ का बदला! हिमाचल में पंजाबी NRI पर हमला; जमकर बवाल

कंगना रनौत के थप्पड़ का बदला! हिमाचल में पंजाबी NRI पर हमला; जमकर बवाल

हिमाचल प्रदेश के खज्जियार में एक पंजाबी एनआरआई टूरिस्ट पर हमला किया गया। आरोप है कि कंगना रनौत के थप्पड़ का बदला लेने के लिए ऐसा किया गया। पुलिस ने इस आरोप को खारिज किया है।

कंगना रनौत के थप्पड़ का बदला! हिमाचल में पंजाबी NRI पर हमला; जमकर बवाल
Ankit Ojhaएजेंसियां,चंडीगढ़Sun, 16 Jun 2024 11:10 AM
ऐप पर पढ़ें

पंजाबी मूल के एक एनआरआई का आरोप है कि हिमचाल प्रदेश के डलहौजी में कुछ लोगों ने उसपर अटैक कर दिया। कवलजीत सिंह लगभग 25 साल से स्पेन में रहते हैं। इन दिनों वह अमृतसर के एक अस्पताल से इलाज करवाने आए हैं। वह घूमने के लिए हिमाचल प्रदेश के डलहौजी गए थे। उन्होंने दावा किया कि पंजाबी होने की वजह से उनपर हमला किया गया। उनका कहना है कि हाल ही में चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर नवनिर्वाचित  बीजेपी सांसद कंगना रनौत को थप्पड़ मारने की घटना का बदला लेने के लिए उनपर अटैक किया गया। 

हिमाचल प्रदेश की पुलिस ने इस आरोप को खारिज किया है और कहा कि यह किसी तरह का अंतरराज्यीय या फिर अंतरसामुदायिक झगड़ा नहीं है। वहीं पंजाब में एनआरआई मामलों के मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल , अमृतसर से सांसद गुरजीत सिंह औजला और अकाली नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने हिमाचल प्रदेश सरकार से ऐक्शन की मांग की है। मजीठिया और औलजा का कहना है कि यह मामला मंडी से सांसद कंगना रनौत को मारे गए थप्पड़ से जुड़ा हुआ है। चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर सीआईएसएफ की जवान कुलविंदर कौर ने कंगना रनौत को थप्पड़ मार दिया था। 

बता दें कि पीड़ित कवलजीत अपनी स्पैनिश पत्नी के साथ बीते 25 साल से स्पेन में ही रहते हैं। हाल ही में वह पंजाब आए थे। इसके बाद पत्नी और अन्य रिश्तेदारों के साथ डलहौजी घूमने गए थे। सिंह का कहना है कि 100 लोगों की भीड़ ने उनपर हमला किया। उनका यह भी आरोप है कि पुलिस भी इस मामले में पक्षपात कर रही थी। हालांकि सीनियर आईपीएस अधिकारी ने इस आरोप को खारिज किया है। 

आईजी नॉर्दर्न रेंज ने पीटीआई को बताया कि सिंह चंबा स्थिति खज्जियार घूमने गए थे। वह किसी महिला का हाथ देख रहे थे। इसी को लेकर बहस छिड़ी और फिर झगड़ा होने लगा। बाद में दोनों पार्टियों ने पुलिस के सामने समझौता कर लिया। उन्होंने लिखित में दिया था कि वह कोई कानूनी कार्रवाई नहीं चाहते। उन्होंने कहा, गर्मियों में रोज हजारों पर्यटक यहां आ रहे हैं। इस तरह का केवल एक ही मामला सामने आया है। 

वहीं अमृतसर के सांसद औजला ने कहा कि हमला करने वाल लोग कंगना रनौत का नाम ले रहे थे। उनका कहना था कि जो कंगना रनौत के साथ हुआ वही उनके साथभी किया जाएगा। औजला ने हिमाचल प्रदेश की सरकार से आरोपियों के खिलाफ सख्त ऐक्शन लेने की मांग की है। अकाली दल के नेता मजीठिया ने भी घटना की निंदा करते हुए कहा कंगना रनौत के बयान की वजह से ही हिमाचल के लोग पंजाबियों पर हमाल कर रहे हैं। पंजाब के एनआरआई मिनिस्टर धालीवाल ने कहा कि उन्होंने इस मामले में हिमाचल सरकार को पत्र लिखा है।