फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News पंजाबमंजूर हुआ इस्तीफा, IAS रहीं परमपाल कौर अब चलेंगी दांव, भाजपा के टिकट पर बठिंडा से लड़ रहीं चुनाव 

मंजूर हुआ इस्तीफा, IAS रहीं परमपाल कौर अब चलेंगी दांव, भाजपा के टिकट पर बठिंडा से लड़ रहीं चुनाव 

परमपाल कौर का इस्तीफा आल इंडिया सर्विस रूल के सर्विस 3 के तहत मंजूर किया गया है। यह नियम केंद्र सरकार को उन आईएएस आफिसरों के इस्तीफे मंजूर करने की शक्तियां देता है।

मंजूर हुआ इस्तीफा, IAS रहीं परमपाल कौर अब चलेंगी दांव, भाजपा के टिकट पर बठिंडा से लड़ रहीं चुनाव 
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,चंडीगढ़Mon, 06 May 2024 12:57 AM
ऐप पर पढ़ें

पंजाब की अकाली सरकार में मंत्री रहे सिकंदर सिंह मलूका की पुत्रवधू और पूर्व आईएएस परमपाल कौर का इस्तीफा केंद्र सरकार ने मंजूर कर लिया है और इस संबंध में केंद्र सरकार की तरफ से पंजाब सरकार को पत्र भी लिखा गया है। पत्र में कहा गया है कि परमपाल कौर का इस्तीफा आल इंडिया सर्विस रूल के सर्विस 3 के तहत मंजूर किया गया है। यह नियम केंद्र सरकार को उन आईएएस आफिसरों के इस्तीफे मंजूर करने की शक्तियां देता है, जिनके इस्तीफा राज्य सरकारों द्वारा मंजूर नहीं किए जाते। दरअसल केंद्र सरकार का परसोनल और ट्रेनिंग विभाग आईएएस आफिसरों की नियुक्तियां करता है। इसके बाद उनकी नियुक्तियां अलग-अलग राज्यों में की जाती हैं लेकिन यदि राज्य द्वारा ऐसे आफिसरों के इस्तीफे मंजूर न किए जाएं तो केंद्र सरकार के पास इस्तीफे को मंजूर करने की शक्तियां हैं। 

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने जताई थी आप​त्ति, दी थी चेतावनी
इससे पहले मुख्यमंत्री भगवंत मान ने परमपाल कौर के भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने पर आपत्ति जाहिर की थी और उनका इस्तीफा मंजूर नहीं किया गया था। परमपाल कौर ने भाजपा ज्वाइन करने से पहले अपना इस्तीफा मुख्य सचिव अनुराग वर्मा को भेजा था, लेकिन राज्य सरकार द्वारा इस्तीफा मंजूर न होने के बावजूद वह भाजपा में शामिल हो गई और बठिंडा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रही है। भगवंत मान ने कहा था कि उनका इस्तीफा नियमों के खिलाफ हुआ है, लिहाजा उनके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है। उन्होंने यह भी कहा था कि राज्य सरकार परमपाल के इस्तीफे के कारणों की जांच कर रही है और यदि उनका इस्तीफा सही मकसद से नहीं हुआ है तो उनके खिलाफ जांच की जाएगी। हालांकि यह जांच किस तरह की होगी और इस पर क्या कार्रवाई की जाएगी, इस बारे उन्होंने कुछ स्पष्ट नहीं किया था। भगवंत मान ने अपने एक्स अकाउंट पर लिखा था कि सेवाओं से मुक्ति का भी एक तरीका होता है। उन्हें यह समझना चाहिए, इस तरीके से वह अपने जीवन की सारी संपत्ति गंवा सकती हैं। 

बठिंडा बनी हॉट सीट, परमपाल कौर का सीधा मुकाबला हरसिमरत बादल से
भाजपा ने बादल परिवार का गढ़ माने जाने वाली बठिंडा सीट से पूर्व आईएएस अधिकारी परमपाल कौर सिद्धू को चुनावी मैदान में उतारा है। परमपाल कौर 2011 बैच की आईएएस अधिकारी हैं। बठिंडा से अकाली दल की तरफ से प्रधान सुखबीर सिंह बादल की पत्नी मौजूदा सांसद हरसिमरत कौर बादल उम्मीदवार हैं। आम आदमी पार्टी की तरफ से गुरमीत सिंह खुड्डियां और कांग्रेस से पूर्व विधायक जीत मोहिंदर सिंह सिद्धू अपनी-अपनी दावेदारी ठोक रहे हैं। इससे बठिंडा सीट काफी हॉट बनी हुई है।

रिपोर्ट: मोनी देवी