फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ पंजाबPM की सुरक्षा में चूक नहीं हुई, कोई ना कोई सड़क पर प्रदर्शन करने आ जाता है; बोले CM

PM की सुरक्षा में चूक नहीं हुई, कोई ना कोई सड़क पर प्रदर्शन करने आ जाता है; बोले CM

पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की सफाई सामने आई है। चन्नी ने कहा कि पीएम के इस दौरे के दौरान सुरक्षा के पूरे इंतजाम थे। चन्नी ने...

PM की सुरक्षा में चूक नहीं हुई, कोई ना कोई सड़क पर प्रदर्शन करने आ जाता है; बोले CM
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 05 Jan 2022 07:05 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की सफाई सामने आई है। चन्नी ने कहा कि पीएम के इस दौरे के दौरान सुरक्षा के पूरे इंतजाम थे। चन्नी ने कहा कि पीएम मोदी की सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि कोई ना कोई प्रदर्शन करने सड़क पर आ ही जाता है। पीएम मोदी की सुरक्षा पर खतरे जैसी कोई बात नहीं थी। इस मामले पर सिर्फ राजनीति की जा रही है। दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पंजाब के फिरोजपुर में बड़ी रैली होनी थी। लेकिन प्रदर्शन कर रहे किसानों ने सड़क पर ही उनके काफिले को रोक दिया।

इसके बाद पीएम का यह कार्यक्रम रद्द हो गया। पीएम के काफिले के रोके जाने की कुछ तस्वीरें सामने आई थीं। जिसमें नजर आ रहा था कि फ्लाइओवर पर पीएम का काफिला रुका हुआ है और सुरक्षा अधिकारी वहां मौजूद है। दिन में हुई इस घटना के बाद एक तरफ जहां खुद पीएम मोदी ने चन्नी सरकार को घेरा तो वहीं भाजपा के कई नेताओं ने भी सीएम चन्नी पर हमला बोला था।

कोरोना नियमों की वजह से नहीं गया

शाम को खुद पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने मीडिया के सामने आकर पूरे मामले में अपनी सफाई पेश की है। चन्नी ने कहा कि हम पीएम मोदी का पूरी तरह से स्वागत करते हैं। उन्होंने कहा,  'कोरोना नियमों के मुताबिक मैं पीएम मोदी का स्वागत करने नहीं जा पाया। मुझे भी पीएम मोदी के साथ जाना था, लेकिन नहीं जा पाया। डिप्टी सीएम और वित्त मंत्री को पीएम मोदी की स्वागत में लगाया।'

प्रदर्शनकारियों पर कही यह बात

सीएम चन्नी ने प्रदर्शकारी किसानों को लेकर कहा कि किसानों की अपनी कुछ मांगे हैं। उन्होंने बताया कि प्रदर्शनकारी किसानों से एक दिन पहले यानी मंगलवार की रात उन्होंने मुलाकात की थी। किसान, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलना चाहते थे। किसान वहां पर शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे। सीएम चन्नी ने कहा कि अगर कोई अचानक वहां आकर प्रदर्शन करने लगे तो उसे तुरंत हटाया नहीं जा सकता। कोई ना कोई सड़क पर प्रदर्शन करने आ जाता है। सीएम ने कहा कि मैं पंजाब के लोगों पर लाठी-डंडे नहीं चलवा सकता।

मुझे फोन आया था- CM

सीएम चन्नी ने कहा कि उन्हें सुबह आईबी निदेशक का फोन आया था। मुझे गृहमंत्रालय से भी फोन आया था। इससे पहले भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आरोप लगाया था कि जब पीएम का काफिला थम गया था तब सीएम चन्नी ने फोन नहीं उठाया था। चन्नी ने कहा कि हमने उनसे (पीएमओ) खराब मौसम की स्थिति और विरोध के कारण दौरा रोकने के लिए कहा था। हमें उनके (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) अचानक मार्ग परिवर्तन की कोई सूचना नहीं थी।

सुरक्षा में चूक नहीं हुई

राज्य के सीएम ने साफ कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा को कोई खतरा नहीं था। पंजाब के सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री की सड़क मार्ग से यात्रा करने की योजना अंतिम समय में बनाई गई थी। कोई सुरक्षा चूक नहीं हुई है। मैं कल देर रात उनकी रैली की सुरक्षा व्यवस्था देख रहा था। पीएम की सड़क की योजना अंतिम समय में बनाई गई थी, उन्हें पहले हेलीकॉप्टर से यात्रा करनी थी। उन्होंने कहा कि यह शांतिपूर्ण प्रदर्शन था। इसे प्रधानमंत्री के साथ खतरे को दिखा कर जोड़ा जा रहा है। ऐसी कोई बात नहीं हुई जिससे कि उनकी सुरक्षा में कोई सेंधमारी हुई है। अगर ऐसी कोई बात हुई है तो हम इसकी जांच करवाएंगे। सुरक्षा में चूक को तोड़ा-मोड़ा गया है। सीएम ने कहा कि PM पर कोई आंच आएगी तो मैं खून न्योछावर करने के लिए तैयार हूं। पंजाबी यही होते हैं।

epaper