फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ पंजाबपटियाला झड़प: मोबाइल इंटरनेट सर्विस बहाल, काली माता मंदिर के बाहर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती

पटियाला झड़प: मोबाइल इंटरनेट सर्विस बहाल, काली माता मंदिर के बाहर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती

पटियाला में काली माता मंदिर के बाहर झड़प स्थल पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है, जबकि विभिन्न हिंदू संगठनों ने यहां का आह्वान किया है। फिलहाल स्थिति शांतिपूर्ण बनी हुई है।

पटियाला झड़प: मोबाइल इंटरनेट सर्विस बहाल, काली माता मंदिर के बाहर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती
Ashutosh Rayशारंगी दत्ता,नई दिल्लीSat, 30 Apr 2022 05:42 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

पंजाब के पटियाला जिले में शुक्रवार को अस्थायी रूप से बंद की गई मोबाइल इंटरनेट सेवा को फिर से बहाल कर दिया गया है। दक्षिणपंथी हिंदू समूह शिवसेना (बाल ठाकरे) और खालिस्तानी समर्थक कार्यकर्ताओं के बीच झड़प के एक दिन बाद शनिवार सुबह मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई थी। मोबाइल इंटरनेट सर्विस को शनिवार शाम 6 बजे तक बंद रखा जाना था।

पंजाब के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के नेता भगवंत मान ने दो ग्रुपों में हुई झड़क के बाद शनिवार को पुलिस के तीन सीनियर अधिकारियों के तबादले का आदेश जारी कर दिया। जिन तीन पुलिस अधिकारियों का ट्रांसफर किया गया है उसमें पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) पटियाला रेंज, राकेश अग्रवाल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नानक सिंह (एसएसपी) पटियाला  और पुलिस अधीक्षक (एसपी) हरपाल सिंह शामिल हैं।

इस मामले में शुक्रवार रात को शिवसेना (बाल ठाकरे) संगठन के नेता हरीश सिंगला को गिरफ्तार किया गया है। झड़क के कुछ घंटे के बाद शिवसेना ने सिंगला को पार्टी से भी निकाल दिया था। सीएम मान की एक हाई लेवल मीटिंग के बाद हरीश सिंगला को गिरफ्तार कर लिया गया। मुख्यमत्री ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं। सीएम ने पंजाब के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) वीके भवरा से पटियाला के मौजूदा हालात पर करीबी नजर रखने और उन्हें लगातार अपडेट करने को कहा है।

गौरतलब है कि पटियाला में काली माता मंदिर के बाहर शुक्रवार को दो समूहों के बीच झड़प के दौरान एक-दूसरे पर पथराव किया गया और स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए पुलिस को हवा में गोलियां चलानी पड़ी। 

epaper