फोटो गैलरी

Hindi News पंजाबपास कराने का लालच देकर रेप? जालंधर में NIT छात्राओं ने प्रोफेसर पर लगाया आरोप

पास कराने का लालच देकर रेप? जालंधर में NIT छात्राओं ने प्रोफेसर पर लगाया आरोप

जालंधर के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कैंपस में पढ़ने वाली छात्रा ने अपने ही प्रोफेसर पर यौन उत्पीड़न के गंभीर आरोप लगाए हैं। यह मामला एनआईटी के एमबीए डिपार्टमेंट से जुड़ा हुआ है।

पास कराने का लालच देकर रेप? जालंधर में NIT छात्राओं ने प्रोफेसर पर लगाया आरोप
Deepakलाइव हिन्दुस्तान,चंडीगढ़Sat, 10 Feb 2024 10:39 PM
ऐप पर पढ़ें

जालंधर के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कैंपस में पढ़ने वाली छात्रा ने अपने ही प्रोफेसर पर यौन उत्पीड़न के गंभीर आरोप लगाए हैं। यह मामला एनआईटी के एमबीए डिपार्टमेंट से जुड़ा है। आरोपी प्रोफेसर की शिकायत महिला सेल में की गई है। मामले की शिकायत मिलने के बाद पुलिस जांच के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी पहुंची थी। इस दौरान उन्हें भी कैंपस में एंट्री नहीं दी गई। सिर्फ थाना मकसूदा के एसएचओ को संस्थान के अंदर जाने की अनुमति दी गई। उन्होंने खुद छात्राओं से बातचीत की। कुछ देर बाद एसएचओ को भी बाहर भेज दिया गया।

पेपर में पास करने की बात कह रेप की ​को​शिश
आरोपी प्रोफेसर ने एक साल पहले ही यहां जॉइन किया था। आरोपी प्रोफेसर ने न सिर्फ एमबीए कर रही छात्राओं बल्कि पीएचडी कर रही छात्राओं से भी गंदी हरकत की है। शुक्रवार को प्रोफेसर ने स्टूडेंट से रेप करने की कोशिश की और उससे कहाकि वह पेपर में पास करवा देगा। हालांकि उस स्टूडेंट ने इसका विरोध किया और तुरंत अपनी साथी लड़कियों को इकट्ठा कर लिया। मामले की जानकारी तुरंत संस्थान को दी गई। जब सारे घटनाक्रम की सूचना पुलिस को मिली तो जालंधर देहात से एक टीम जांच के लिए एनआईटी पहुंच गई थी। लेकिन पुलिस को अंदर नहीं जाने दिया गया।

पीआरओ ने किया घटना से इंकार
जब एनआईटी मैनेजमेंट से संपर्क किया गया तो पीआरओ ओमप्रकाश ने कहाकि डायरेक्टर अभी मीटिंग में बिजी हैं। उन्होंने कैंपस के अंदर इस तरह के किसी भी मामले के सामने आने से इनकार किया है। उन्होंने कहाकि यहां पुलिस नहीं आई है, और उनके कैंपस के भीतर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं जो 24 घंटे चलते हैं। अगर ऐसा कुछ होता तो वह सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हो जाता। उन्होंने कहाकि यह एक अफवाह है और यह खबर प्लानिंग करके लगाई गई है।
(रिपोर्ट: मोनी देवी)

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें