फोटो गैलरी

Hindi News पंजाबवन घोटाले में पंजाब के पूर्व मंत्री साधु सिंह के घर ईडी की रेड, बेटे-पत्नी से पूछताछ

वन घोटाले में पंजाब के पूर्व मंत्री साधु सिंह के घर ईडी की रेड, बेटे-पत्नी से पूछताछ

पंजाब के पूर्व मंत्री साधु सिंह धर्मसोत के घर आज सुबह-सुबह ईडी की रेड हुई है। वो घर पर मौजूद नहीं थे। हालांकि छापामार टीम ने उनके बेटे और पत्नी से पूछताछ की है।

वन घोटाले में पंजाब के पूर्व मंत्री साधु सिंह के घर ईडी की रेड, बेटे-पत्नी से पूछताछ
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,चंडीगढ़Thu, 30 Nov 2023 10:50 AM
ऐप पर पढ़ें

पंजाब के पूर्व मंत्री साधु सिंह धर्मसोत के घर आज सुबह-सुबह ईडी की रेड हुई है। प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने अमलोह में पूर्व मंत्री साधु सिंह धर्मसोत के घर पर छापेमारी की। यह कार्रवाई वन घोटाले से जुड़े मामले में मानी जा रही है। भ्रष्टाचार के आरोपों में वो गिरफ्तार भी हुए थे। हालांकि अभी जमानत पर बाहर हैं। बताया जा रहा है कि रेड के दौरान साधु सिंह घर पर नहीं थे। ईडी की टीम ने उनके बेटे और पत्नी से पूछताछ की है। साधु सिंह के अलावा वन विभाग के कुछ ठेकेदारों और उनके करीबियों के घर भी रेड हुई है।

ईडी की एक टीम ने गुरुवार को अमलोह के वार्ड नंबर 6 में पंजाब सरकार में पूर्व वन मंत्री और कांग्रेसी नेता साधु सिंह धर्मसोत के आवास पर छापेमारी की है। इस दौरान साधु सिंह घर पर नहीं थे। उनकी पत्नी और बेटा गुरप्रीत सिंह घर पर थे। छापेमारी अभी चल रही है और किसी को भी अंदर जाने की इजाजत नहीं दी जा रही है। धर्मसोत के अलावा वन विभाग के कुछ ठेकेदारों व उनके करीबियों के घर पर भी रेड की गई है। ईडी की टीमें और सेंट्रल रिजर्व फोर्स के जवान उनके घर पहुंच गए। 

भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार
साधु सिंह धर्मसोत का नाम वन घोटाले में आया था। इस मामले में उनकी गिरफ्तारी भी हुई थी। हालांकि, बाद में जमानत भी मिल गई थी। उन पर आरोप थे कि उन्होंने पेड़ कटाई के बदले रिश्वत ली थी। 6 जून को उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की गई थी और फिर उन्हें गिरफ्तार किया गया था।

इसके बाद पंजाब विजिलेंस ने 6 फरवरी 2023 को आय से अधिक संपत्ति मामले में धर्मसोत के खिलाफ एफआईआर दर्ज की और गिरफ्तार किया। जांच में पाया गया था कि साल 2016 से लेकर 2022 तक धर्मसोत और उनके परिवार की आय 2.37 करोड़ रुपए थी जबकि, 8.76 करोड़ रुपए खर्च किए गए थे।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दी थी क्लीनचिट
जून 2022 में धर्मसोत को स्कॉलरशिप घोटाले के आरोप में भी अरेस्ट किया गया था। उन पर आरोप था कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के पंजाब का सीएम रहते अलग-अलग वर्गों के छात्रों को मिलने वाली स्कॉलरशिप में गड़बड़ी हुई थी। धर्मसोत पर यह आरोप कैप्टन सरकार के दौरान ही लगे थे लेकिन तत्कालीन सीएम अमरिंदर सिंह ने उन्हें क्लीन चिट दे दी थी। धर्मसोत अमरिंदर सिंह के करीबी माने जाते हैं। 


रिपोर्ट: मोनी देवी

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें