फोटो गैलरी

Hindi News पंजाबदलित सरपंच को पेड़ से बांधकर पीटा, पुलिस की वॉर्निंग के बाद भी वीडियो वायरल

दलित सरपंच को पेड़ से बांधकर पीटा, पुलिस की वॉर्निंग के बाद भी वीडियो वायरल

जालंधर के नूरपुर गांव में कुछ लोगों ने सरपंच को पेड़ से बांधकर पीटा। दरअसल मामला एक जमीन को लेकर था जिसमें सरपंच पैरवी कर रहे थे। वहीं जिन लोगों ने कब्जा किया था उनको आपत्ति थी।

दलित सरपंच को पेड़ से बांधकर पीटा, पुलिस की वॉर्निंग के बाद भी वीडियो वायरल
Ankit Ojhaमोनी देवी, लाइव हिंदुस्तान,जालंधरMon, 04 Dec 2023 11:28 PM
ऐप पर पढ़ें

जालंधर में दलित समुदाय के सरपंच को पेड़ से बांधकर पीटने का मामला सामने आया है। पीडि़त नूरपुर गांव का मौजूदा सरपंच है और बहुजन समाज पार्टी से जुड़ा है। बसपा सरपंच की पिटाई की वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। पुलिस के मुताबिक थाना मकसूदा में दर्ज की गई डीडीआर के अनुसार नूरपुर गांव के मौजूद सरपंच राज कुमार का गांव के ही रहने वाले निरंजन दास के साथ जमीनी विवाद चल रहा था। इस दौरान 29 नवंबर को मामला इतना बढ़ गया को निरंजन दास ने गांव के सरपंच को पेड़ से बांध दिया। सरपंच के साथ मारपीट की गई। कब्जाधारी निरंजन सिंह ने अपने भाई, भतीजों के साथ मिलकर मौजूदा सरपंच के साथ गाली-गलौज भी की। मामले की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों पक्षों को थाने ले आई। दोनों पक्षों में लिखित में राजीनामा हो गया था।

सरपंच की पिटाई की वीडियो बनाई
सरपंच के साथ हुई मारपीट के वीडियो मौके पर लोगों ने बनाए थे। पुलिस ने दोनों पक्षों के बीच राजीनामा और आरोपी पक्ष को सरपंच के साथ हुई मारपीट का वीडियो डिलीट करने के आदेश दिए थे लेकिन अब यह वीडियो वायरल होने से मामला दोबारा सुर्खियों में आ गया है। डीडीआर में जिक्र किया गया है कि अगर राजीनामे के बाद कोई भी वीडियो वायरल होता है तो पुलिस मामले में कार्रवाई करेगी, लेकिन इसके बाद भी वीडियो वायरल की गई। देर शाम तक पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई थी।

अदालत में चल रहा केस, सरपंच कर रहे थे पैरवी 
डीएसपी बलवीर सिंह का कहना है कि पुलिस के पास कोई शिकायत नहीं आई। इलाके के लोगों का कहना कि हड्डा रोडी की जमीन केंद्र सरकार की है। इस पर लंबे समय से निरंजन व उसके रिश्तेदार काबिज हैं। इस जमीन को लेकर पंचायत ने अदालत में केस दायर कर रखा है। इस मामले में पैरवी सरपंच कर रहे थे। वहां कुछ दिन पहले विवाद हो गया था। इसके बाद निरंजन उसके रिश्तेदारों ने सरपंच राणा को पेड़ से बांधकर पीटा लेकिन उसी दिन शाम को मामले का राजीनामा हो गया था।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें