फोटो गैलरी

Hindi News पंजाबदुर्गियाना मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी, आतंकी पन्नू के खिलाफ दर्ज हुआ केस

दुर्गियाना मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी, आतंकी पन्नू के खिलाफ दर्ज हुआ केस

खालिस्तानी समर्थकों ने कहा कि तीर्थ को बंद करके इसकी चाबियां श्री हरिमंदिर साहिब में सौंप दी जाए, नहीं तो तीर्थ को बम से उड़ा देंगे। इससे पहले खालिस्तानी आतंकी पन्नू ने भी ऐसी ही धमकी दी थी।

दुर्गियाना मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी, आतंकी पन्नू के खिलाफ दर्ज हुआ केस
Deepakलाइव हिन्दुस्तान,चंडीगढ़Thu, 25 Jan 2024 08:10 PM
ऐप पर पढ़ें

अमृतसर के मशहूर दुर्गियाना मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी मिली है। मंदिर कमेटी के पास एक फोन आया, जिसमें पूर्व मंत्री और दुर्गियाना मंदिर कमेटी की अध्यक्ष लक्ष्मीकांता चावला के अलावा मंदिर कमेटी के सचिव अरुण खन्ना को जान से मारने की धमकी दी गई। खालिस्तानी समर्थकों ने कहा कि तीर्थ को बंद करके इसकी चाबियां श्री हरिमंदिर साहिब में सौंप दी जाए, नहीं तो तीर्थ को बम से उड़ा देंगे। इससे पहले खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने भी इसी प्रकार की धमकी दी थी। दुर्गियाना कमेटी के पदाधिकारी राम पाठक ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि वीरवार को दुर्गियाना कमेटी के फोन पर दो कॉल आए। कॉल करने वाले ने दुर्गियाना कमेटी की अध्यक्ष लक्ष्मी कांता चावला और सचिव अरुण खन्ना को गोली मारने की धमकी दी और कहा गया कि दुर्गियाना मंदिर को बम से उड़ा दिया जाएगा। 

पुलिस ने किए इंतजाम
दुर्गियानी मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी देने के मामले में आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू के खिलाफ थाना डी डिवीजन में एकता अखंडता, माहौल खराब करने और आईटी एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस-प्रशासन ने दुर्गियाना मंदिर की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए। धमकी मिलने के बाद पुलिस-प्रशासन ने दुर्गियाना मंदिर की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। दुर्गियाना मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं की पुलिस-प्रशासन पूरी तरह से जांच कर रहा है। पुलिस अधिकारी डॉग स्क्वॉड की भी मदद ले रहे हैं। पुलिस का कहना है कि किसी को घबराने की जरूरत नहीं है। सुरक्षा में किसी भी प्रकार की कोई कोताही नहीं बरती जाएगी। उन्होंने कहा कि इसके पीछे जो भी शरारती तत्व हैं, उन्हें जल्द ही पकड़ लिया जाएगा।

आतंकी पन्नू ने दी थी धमकी
दो दिन पहले खालिस्तानी समर्थक गुरपतवंत पन्नू ने दुर्गियाना मंदिर को नुकसान पहुंचाने की धमकी दी थी। इसको लेकर खालिस्तानी समर्थक ने एक वीडियो जारी कर दुर्गियाना मंदिर को बंद करने और उसकी चाबियां हरमंदिर साहिब को सौंपने की बात कही थी। अमृतसर पुलिस ने भी पन्नू के खिलाफ मामला दर्ज किया था। पन्नू की धमकी के बाद दुर्गियाना मंदिर के बाहर भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है।
(रिपोर्ट: मोनी देवी)

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें