फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News पंजाबशादी के बाद पति संग तख्त श्री दमदमा साहिब पहुंचीं पंजाब की पर्यटन मंत्री अनमोल गगन मान

शादी के बाद पति संग तख्त श्री दमदमा साहिब पहुंचीं पंजाब की पर्यटन मंत्री अनमोल गगन मान

अनमोल गगन मान का जन्म मानसा जिले में 26 फरवरी 1990 को हुआ था। उनका पालन-पोषण मोहाली में हुआ।

शादी के बाद पति संग तख्त श्री दमदमा साहिब पहुंचीं पंजाब की पर्यटन मंत्री अनमोल गगन मान
Madan Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,चंडीगढ़Sat, 22 Jun 2024 10:53 PM
ऐप पर पढ़ें

16 जून को शादी के बंधन में बंधी पंजाब की पर्यटन मंत्री और खरड़ विधानसभा से विधायक अनमोल गगन मान आज अपने पति एडवोकेट शाहबाज सोही संग बठिंडा जिले में ​​स्थित तख्त श्री दमदमा साहिब में माथा टेकने पहुंचीं। इस दौरान उनके ससुराल वाले भी साथ थे। तख्त श्री दमदमा साहिब के मैनेजर रणजीत सिंह ने परिवार का स्वागत किया। अनमोल गगन मान ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर तस्वीरें सांझा की हैं। कैप्शन में उन्होंने लिखा है- आज मुझे अपने परिवार के साथ सचखंड श्री दरबार साहिब, श्री अकाल तख्त साहिब और तख्त श्री दमदमा साहिब में माथा टेकने का सौभाग्य मिला। गुरु चरणों में नए जीवन की शुरुआत के लिए प्रार्थना। ईश्वर आपको अपने दयालु हाथ और अच्छे स्वास्थ्य का आशीर्वाद दें।

पंजाबी सिंगिंग से राजनीति में की एंट्री
अनमोल गगन मान का जन्म मानसा जिले में 26 फरवरी 1990 को हुआ था। उनका पालन-पोषण मोहाली में हुआ। 2013 में अनमोल गगन मान ने चंडीगढ़ में एमसीएम डीएवी कॉलेज से मनोविज्ञान और संगीत में ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी की। इसी साल मिस वर्ल्ड पंजाबन में मिस मोहाली पंजाबन का ताज भी उन्होंने पहना। इसके बाद मान 2014 में इंग्लैंड चली गईं। साल 2015 में अनमोल का पहला गाना शौकीन जट्ट आया। इस गाने के बाद उन्होंने पंजाबी म्यूजिक इंडस्ट्री में कदम रखा। मान ने 2020 में आम आदमी पार्टी का दामन थामा था। 

अपना गायिका का प्रोफेशन छोड़ राजनीति में पूरा समय देना शुरू कर दिया था। इसके बाद चुनाव में अनमोल गगन मान को आप ने खरड़ से टिकट देकर उन पर भरोसा जताया, जिस पर वह खरी उतरीं। उन्होंने शिरोमणि अकाली दल उम्मीदवार रणजीत सिंह गिल को 37718 वोटों से हराया है। इसके बाद उन्हें सीएम भगवंत मान ने अपनी सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाया। उनके पास पंजाब सरकार का टूरिज्म विभाग है। अनमोल गगन मान पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल की काफी करीबी मानी जाती हैं। विधायक बनने के बाद अनमोल कुछ बयानों की वजह से विवादों में भी रहीं।

कौन हैं पति शाहबाज
शाहबाज सोही ने वकालत की पढ़ाई की है और अब वह अपने परिवार का प्रॉपर्टी बिजनेस संभाल रहे हैं। शाहबाज के पिता रविंदर सिंह कुक्कू सोही डेराबस्सी निर्वाचन क्षेत्र के बड़े कांग्रेसी नेता थे, जिनकी 2002 के विधानसभा चुनावों से पहले मृत्यु हो गई थी। 2002 के चुनावों के दौरान शाहबाज सोही की मां और कुक्कू सोही की पत्नी शीलम सोही ने बनूड़ विधानसभा क्षेत्र से अकाली दल के तत्कालीन वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री दिवंगत कैप्टन कंवलजीत सिंह को कड़ी टक्कर देते हुए कांग्रेस पार्टी से चुनाव लड़ा, जो सिर्फ 714 वोट से हार गई थीं। शाहबाज सोही के दादा बलबीर सिंह बलटाना बनूड़ निर्वाचन क्षेत्र से आजाद विधायक रह चुके हैं। शादी के दिन नव युगल को बधाई देने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान सहित राजनीति के कई धुरंधर पहुंचे थे। इसके साथ ही पंजाब इंडस्ट्री के भी कई कलाकार मौजूद रहे।

रिपोर्ट: मोनी देवी

Advertisement