फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ पंजाबपटियाला में शिवसेना और खालिस्तान समर्थकों में पथराव, तलवारें लहराईं; तनाव

पटियाला में शिवसेना और खालिस्तान समर्थकों में पथराव, तलवारें लहराईं; तनाव

शुक्रवार को शिवसेना कार्यकर्ताओं की ओर से निकाले जा रहे मार्च के दौरान दो गुटो में झड़प हो गई। जानकारी के अनुसार, शिवसेना कार्यकर्ताओं के साथ खालिस्तान समर्थकों के बीच पत्थरबाजी हुई।

पटियाला में शिवसेना और खालिस्तान समर्थकों में पथराव, तलवारें लहराईं; तनाव
Gaurav Kalaएएनआई,नई दिल्लीFri, 29 Apr 2022 02:54 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

पंजाब के पटियाला के काली देवी मंदिर के पास आज शिवसेना और खालिस्तान समर्थकों के बीच तीखी झड़प हो गई। इस दौरान मौके पर दोनों पक्षों की तरफ से पथराव किया गया और तलवारें भी लहराई गई। आपात घटना के बाद मौके पर पुलिस पहुंची और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात की गई है।

मिली जानकारी के अनुसार, पंजाब के पटियाला में काली माता मंदिर के पास शुक्रवार को दो समूहों के बीच भिड़ंत में पथराव और तलवारें बरसाई गईं। यह घटना तब हुई जब शिवसेना पटियाला में खालिस्तानी समूहों के खिलाफ मार्च कर रही थी। रैली के दौरान सिख संगठन और शिवसेना के सदस्य आपस में भिड़ गए। भीड़ में से कई लोगों ने नारेबाजी भी की, जिससे इलाके में तनाव बढ़ गया।

रैली के दौरान दोनों पक्षों में तनाव इतना बढ़ गया कि पुलिस टीम को स्थिति संभालने के लिए हवाई फायरिंग करनी पड़ी। इस दौरान कई लोग घायल भी हुए हैं। फिलहाल स्थिति तनावपूर्ण है, लेकिन शांति व्यवस्था को पुलिस की मदद से कायम रखने में मदद मिली है।

वीडियो में पुलिस से बहस कर रहे प्रदर्शनकारी
घटना के कई वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आ रहे हैं। जिसमें लोगों का एक वर्ग हवा में तलवारें लहराते और नारे लगाते देखा जा सकता है। स्थिति बढ़ने पर कुछ लोगों ने पुलिस कर्मियों से भी बहस की। वीडियो में एक व्यक्ति एक मंदिर के पास एक इमारत के ऊपर खड़ा है और पत्थर फेंक रहा है।

घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्णः भगवंत मान
पटियाला में हुई इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि उन्होंने डीजीपी से बात की है, इलाके में शांति बहाल कर दी गई है। उन्होंने ट्वीट किया, "पटियाला में झड़प की घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। मैंने डीजीपी से बात की, क्षेत्र में शांति बहाल कर दी गई है। हम स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं और किसी को भी राज्य में अशांति पैदा नहीं करने देंगे। पंजाब की शांति और सद्भाव अत्यंत महत्वपूर्ण है।

 

अफवाहों पर ध्यान न देंः पुलिस की अपील
पटियाला के उपायुक्त साक्षी साहनी ने शांति का आह्वान किया और लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने का आग्रह किया। साक्षी साहनी ने कहा, "जिला प्रशासन पटियाला और पंजाब के सभी भाइयों और बहनों से शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील करता है।" साक्षी साहनी ने कहा, "मौजूदा स्थिति नियंत्रण में है और लगातार निगरानी की जा रही है। शांति और सद्भाव सुनिश्चित करने के लिए सभी उपाय किए जा रहे हैं। सभी से अनुरोध है कि वे निराधार समाचारों / सोशल मीडिया पर विश्वास न करें और अपने-अपने घरों, ठहरने की जगहों पर लौट आएं।"

विवाद को सुलझाने के लिए दोनों समूहों के बीच बातचीत का आह्वान करते हुए साक्षी साहनी ने कहा, "शांति और सद्भाव हमारे सभी धर्मों का मूल मंत्र है, भले ही कोई विवाद या गलतफहमी हो, इसे बातचीत से सुलझाना महत्वपूर्ण है।"

epaper