फोटो गैलरी

Hindi News पंजाबलॉरैंस गैंग के 8 गुर्गे अरेस्ट, ह​थियार बरामद, कारोबारी से मांगी थी 50 लाख की रंगदारी

लॉरैंस गैंग के 8 गुर्गे अरेस्ट, ह​थियार बरामद, कारोबारी से मांगी थी 50 लाख की रंगदारी

ज्वाइंट कमिश्नर संदीप शर्मा ने बताया कि पिछले दिनों जालंधर के करमा फैशन स्टूडियो को एक धमकी भरी चिट्ठी मिली थी और डराने के लिए एक गोली भी भेजी गई थी।

लॉरैंस गैंग के 8 गुर्गे अरेस्ट, ह​थियार बरामद, कारोबारी से मांगी थी  50 लाख की रंगदारी
Madan Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,चंडीगढ़Thu, 08 Feb 2024 07:51 PM
ऐप पर पढ़ें

जालंधर कमिश्नरेट पुलिस ने लॉरेंस बिश्नोई गैंग के आठ गैंगस्टरों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 3 पिस्तौल, 10 कारतूस, 4 मैगजीन और कई वाहन बरामद किए हैं। जालंधर में करमा फैशन व्यापारी को कुछ दिन पहले चिट्ठी के साथ एक गोली मिली थी, जिसमें लॉरेंस बिश्नोई का नाम लेकर 50 लाख रुपए की फिरौती मांगी गई थी। इस मामले को हल करते हुए जालंधर कमिश्नरेट पुलिस ने लॉरेंस बिश्नोई गैंग के आठ गैंगस्टरों को गिरफ्तार किया है। 

करमा फैशन के बाहर फेंका था धमकी भरा पत्र 
ज्वाइंट कमिश्नर संदीप शर्मा ने बताया कि पिछले दिनों जालंधर के करमा फैशन स्टूडियो को एक धमकी भरी चिट्ठी मिली थी और डराने के लिए एक गोली भी भेजी गई थी। 27 जनवरी को करमा फैशन स्टूडियो शोरूम के मालिक से 50 लाख रुपये की मांग की थी। धमकी वाले पत्र में इन्होंने लिखा था कि यह लोग लॉरेंस बिश्नोई गैंग से संबंधित है, फिलहाल इस बात की जांच की जा रही है। आरोपियों से ज्यादा मात्रा में हथियार भी बरामद किए गए हैं और यह आगे और क्या प्लानिंग कर रहे थे इसके बारे में पता लगाया जा रहा है।

सभी आरोपी जिला जालंधर निवासी
ज्वाइंट कमिश्नर संदीप शर्मा ने कहा कि गैंगस्टरों की पहचान संजय बावा, दीपक कुमार उर्फ दीपक, राजिंद्र राजपुर उर्फ गज्जू, राधे, अभिषेक गिल, पप्पू, मनोज और दीपक कुमार के रूप में हुई है। सभी आरोपी जिला जालंधर के ही हैं। गैंगस्टरों को धोबी घाट नजदीक टी.वी टावर से काबू किया गया है। वहीं यह सारे बदमाश मोहल्ला न्यू गोपाल नगर, नीलामहल, न्यू दाना मंडी और शहीद बाबू लाभ सिंह नगर के रहने वाले हैं। 

इंग्लैंड में रहने वाले गैंगस्टर के साथ है संबंध
पकड़े गए इन गैंगस्टरों का संबंध इंग्लैंड में रह रहे सूरज से है। बदमाश लोगों से पैसे निकलवाने के लिए रंगदारी की काल और लेटर का इस्तेमाल करते हैं। बदमाशों का पिछला आपराधिक कोई रिकार्ड नहीं है। वहीं पुलिस को कुछ अकाउंट नंबर भी मिले हैं, जोकि संदिग्ध माने जा रहे हैं।

पत्र में लपेट कर भेजा था कारतूस
करमा फैशन शोरूम के मालिक राघव ने बताया था कि उनकी दुकान पर पत्र में गोली लपेट कर फैंकी गई ​थी। पत्र में लिखा था कि ये गोली तुम्हें गिफ्ट के तौर पर भेजा है। अगर तुम रंगदारी नहीं दोगे तो इसे तुम पर ही इस्तेमाल करेंगे। राघव ने को काफी समय से थ्रेट कॉल आ रहे थे। 

रिपोर्ट: मोनी देवी

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें