No snow in Kedarnath in the month of January - हे भगवान! जनवरी में बर्फ से ढके रहने वाले केदारनाथ में ये क्या हो गया 1 DA Image

अगली फोटो

हे भगवान! जनवरी में बर्फ से ढके रहने वाले केदारनाथ में ये क्या हो गया

केदारनाथ धाम जैसी जगह जहां जाड़ों में 15 से 20 फीट बर्फ जमी रहती है। वहां आज बर्फ के लाले पड़े हैं। बदलते मौसमीय चक्र ने पर्यावरण को काफी प्रभावित कर दिया है। केदारनाथ में चटक धूप खिली हुई है।
आपदा से पहले शीतकाल में केदारनाथ धाम में कोई नहीं रहता था। बताते हैं तब केदारनाथ धाम में दिसम्बर, जनवरी और फरवरी में करीब 15 से 20 फीट बर्फ मौजूद रहती थी किंतु आपदा के बाद केदारनाथ की पहाड़ियां बर्फ के लिए तरस रही है।
मेरू-सुमेरू पर्वत में जो बर्फ है वह भी तेज धूप के कारण पिघल रही है। केदारनाथ में रह रहे निम के देवेंद्र बिष्ट और चौकी इंचार्ज बिपिन चन्द्र पाठक ने बताया कि अन्य सालों की तुलना केदारनाथ में कम बर्फ गिरी है। पूर्व के सालों को देखें तो वर्ष 14, 15 और 2016 में केदारनाथ धाम में क्रमश: 12, 14 और 15 फीट बर्फ देखने को मिली है।
वर्तमान में केदारनाथ में मौसम में भी बदलाव आने लगा है। निम के मुताबिक इन दिनों सुबह का तापमान माइनस 3 डिग्री पहुंच गया है जबकि दोपहर में तापमान 15 डिग्री तक पहुंच रहा है। रात में भी माइनस 5 डिग्री तापमान से ज्यादा पारा नहीं गिर रहा है। केदारनाथ की पहाड़ियों में बर्फ की कमी साफ दिखाई दे रही है।
रुड़की विवि के वैज्ञानिक कपिल ने बताया कि मौसम चक्र के मुताबिक कई बार ऐसे बदलाव देखने को मिलते हैं जो चिंता का कारण भी बनते हैं। केदारनाथ की पहाड़ियों के लिए बर्फ काफी जरूरी है। पर्यावरणविद जगत सिंह जंगली ने बताया कि केदारनाथ आस्था का केंद्र तो है ही साथ ही यहां की पहाड़ियां बर्फ से आच्छादित रहती है किंतु कुछ सालों से यहां बर्फ की कमी चिंता का कारण बन रही है। पर्यावरण को बचाने के लिए ठोस कदम उठाने होंगे।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:No snow in Kedarnath in the month of January