Hindi News फोटो उत्तरप्रदेशअयोध्या में जन्मभूमि पर कमलदल पर विराजमान हुए रामलला, पहली तस्वीर भी आई सामने

अयोध्या में जन्मभूमि पर कमलदल पर विराजमान हुए रामलला, पहली तस्वीर भी आई सामने

अयोध्या के राममंदिर में गुरुवार को रामलला अपने आसन पर विराजमान हो गए। अचल विग्रह का मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश हो गया और गणपति पूजन के साथ शिला के कमल दल पर मूर्ति प्रतिष्ठित...

Yogesh Yadav
अयोध्या में जन्मभूमि पर कमलदल पर विराजमान हुए रामलला, पहली तस्वीर भी आई सामने1/8

12 30

जन्मभूमि स्थित राम मन्दिर में दोपहर 12:30 बजे के बाद रामलला की मूर्ति का प्रवेश हुआ। दोपहर 1:20 बजे यजमान ने प्रधानसंकल्प होकर अनुष्ठान शुरू किया। मूर्ति का जलाधिवास हुआ।

अयोध्या में जन्मभूमि पर कमलदल पर विराजमान हुए रामलला, पहली तस्वीर भी आई सामने2/8

5 51 7 1

पांच वर्ष के बालक राम के विग्रह यानी रामलला की मूर्ति की लंबाई 51 इंच है। कमल दल के साथ लंबाई 7 फुट 10 इंच की हो जाती है।

अयोध्या में जन्मभूमि पर कमलदल पर विराजमान हुए रामलला, पहली तस्वीर भी आई सामने3/8

राम मंदिर में गर्भगृह के सामने रजत विग्रह के साथ अनुष्ठान पूरा कराया गया। वैदिक आचार्य व मुख्य यजमान डॉक्टर अनिल मिश्र के साथ पंच अंग विधि अनुष्ठान हुआ।

संबंधित फोटो गैलरी

अयोध्या में जन्मभूमि पर कमलदल पर विराजमान हुए रामलला, पहली तस्वीर भी आई सामने4/8

शुक्रवार को यज्ञ मंडप के चारों द्वारों का वेदमूर्ति पूजन व चतुर्वेद पारायण के अलावा और यज्ञमंडप के षोडश स्तंभों का पूजन व देवताओं का आह्वान होगा। अरणि मंथन से यज्ञ कुंड में अग्निदेव का प्राकट्य और इसके बाद यज्ञ कुंड में हवन का शुभारम्भ होगा।

अयोध्या में जन्मभूमि पर कमलदल पर विराजमान हुए रामलला, पहली तस्वीर भी आई सामने5/8

इससे पहले गुरुवार की देर रात रामलला की प्रतिमा राममंदिर लाई गई। ट्रक पर लाई गई प्रतिमा क्रेन से उतारकर मंदिर परिसर में रखी गई।

अयोध्या में जन्मभूमि पर कमलदल पर विराजमान हुए रामलला, पहली तस्वीर भी आई सामने6/8

बुधवार को जलयात्रा भव्य रूप से निकाली गई। रामलला की मूर्ति की शोभायात्रा उत्साह के साथ सम्पन्न हुई। मण्डप में आनन्द रामायण का पारायण प्रारम्भ हुआ था।

अयोध्या में जन्मभूमि पर कमलदल पर विराजमान हुए रामलला, पहली तस्वीर भी आई सामने7/8

गर्भगृह में विराजमान हुए रामलला की तस्वीर भी सामने आई है। इसमें पीले कपड़े से उनका चेहरा और हाथ ढंका है। प्राण प्रतिष्ठा वाले दिन कपड़े को खोला जाएगा।

अयोध्या में जन्मभूमि पर कमलदल पर विराजमान हुए रामलला, पहली तस्वीर भी आई सामने8/8

रामजन्मभूमि के पास ही यत्रशाला का भी निर्माण किया गया है। यहां लगातार हवन कुंड हो रहे हैं।

संबंधित फोटो गैलरी