DA Image
24 अक्तूबर, 2020|2:33|IST

अगली फोटो

फोटोज में देखें, हाथरस जा रहे राहुल गांधी पुलिस से हुई धक्का-मुक्की में कैसे जमीन पर गिरे

1 / 11

उत्तर प्रदेश की हाथरस की घटना को लेकर ग्रेटर नोएडा में आज सुबह से ही हाईवोल्टेज ड्रामा जारी है। 19 वर्षीय गैंगरेप पीड़िता के परिजनों से मुलाकात के लिए हाथरस जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पुलिस उन्हें एफ-1 गेस्ट हाउस में लेकर गई है।

2 / 11

राहुल और प्रियंका के काफिले को पुलिस द्वारा ग्रेटर नोएडा में यमुना एक्सप्रेस-वे के जीरो प्वॉइंट पर रोके जाने के बाद वे कड़े सुरक्षा घेरे में कार्यकर्ताओं के साथ पैदल ही हाथरस के लिए निकल पड़े थे, लेकिन पुलिस ने कुछ दूर जाने के बाद कानून-व्यवस्था का हवाला देकर फिर से रोक दिया। पुलिस ने एहतियान राहुल और प्रियंका को हिरासत में ले लिया।

                                                                 -19
3 / 11

पुलिस द्वारा जिले में 144 लागू होने का हवाला देते हुए रोके जाने पर राहुल ने कहा कि अगर कोविड-19 प्रोटोकॉल है तो उन्हें अकेले ही हाथरस जाने दिया जाए, लेकिन पुलिस ने उन्हें आगे नहीं बढ़ने दिया।

                                                                                                                                                                                        -
4 / 11

बताया जा रहा है इस दौरान हाथरस जाने पर अड़े राहुल और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की भी हुई, जिसमें राहुल गांधी जमीन पर गिर गए।

5 / 11

इस दौरान राहुल गांधी ने कहा कि मैं हाथरस जाकर रहूंगा, कोई मुझे रोक नहीं सकता। इसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया।

6 / 11

इससे गुस्साए कार्यकर्ताओं ने पुलिस और यूपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। इन्हें काबू करने के लिए पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज भी किया, जिसमें कई कार्यकर्ता घायल हो गए।

7 / 11

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि दुख की घड़ी में अपनों को अकेला नहीं छोड़ा जाता। UP में जंगलराज का ये आलम है कि शोक में डूबे एक परिवार से मिलना भी सरकार को डरा देता है। इतना मत डरो, मुख्यमंत्री महोदय!

8 / 11

इससे पहले सुबह भी उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि यूपी के जंगलराज में बेटियों पर ज़ुल्म और सरकार की सीनाजोरी जारी है। कभी जीते-जी सम्मान नहीं दिया और अंतिम संस्कार की गरिमा भी छीन ली। भाजपा का नारा ‘बेटी बचाओ’ नहीं, ‘तथ्य छुपाओ, सत्ता बचाओ’ है।

9 / 11

वहीं, प्रियंका गांधी ने कहा कि यूपी में आज हाथरस से लेकर बलरामपुर तक कहीं भी लड़कियां सुरक्षित नहीं हैं। लड़कियों पर अत्याचार हो रहा है और इसके लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जिम्मेदार हैं। महिलाओं की सुरक्षा की जिम्मेदारी सरकार को लेनी ही होगी।

10 / 11

उन्होंने कहा कि हिन्दुत्व के रखवाले बनने का दावा करने वाले योगी आदित्यनाथ ने किस हक से एक पिता को अपनी बेटी का अंतिम संस्कार करने से रोका है।

                                                                                                          18
11 / 11

प्रियंका ने कहा कि मैं भी एक महिला हूं और 18 साल की बेटी की मां हूं, इसलिए हाथरस की मां के दर्द को मैं अच्छी तरह समझ सकती हूं। (All Photos Credit : @INCIndia Twitter)

अगली गैलरी