DA Image

अगली फोटो

पिंकसिटी बनी मेट्रोसिटी

पिंकसिटी बनी मेट्रोसिटी
राजस्थान की राजधानी जयपुर में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आज (बुधवार) सुबह जयपुर मेट्रो रेल का उद्घाटन किया। इसके बाद आम लोगों के लिए मेट्रो सेवा आज दोपहर 2 बजे से शुरू कर दी जाएगी। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि जयपुर मेट्रो के 24 चालकों में 5 महिला चालक शामिल हैं।
पिंकसिटी बनी मेट्रोसिटी
जयपुर मेट्रो के सफर वाला देश का छठा शहर बन गया है। उद्घाटन के बाद बुधवार को दोपहर 2 बजे से आम यात्रियों के लिए मेट्रो शुरू हो जाएगी। जयपुर मेट्रो मानसरोवर क्षेत्र से परकोटे के बाहर चांदपोल गेट तक चलेगी।
पिंकसिटी बनी मेट्रोसिटी
खास बात यह है कि जयपुर मेट्रो का सफर देश की अन्य सभी मेट्रो से ज्यादा सुरक्षित और ज्यादा आरामदायक होगा। जयपुर मेट्रो में कई ऐसी सुविधाएं जो कि अन्य शहरों की मेट्रो में नहीं है।
पिंकसिटी बनी मेट्रोसिटी
आइये आपको बताते हैं जयपुर मेट्रो में क्या है खास, आपने अन्य शहरों की मेट्रो में कई झटके झेले होंगे, लेकिन जयपुर मेट्रो में ऐसे डिस्क ब्रेक लगे हैं, जिससे आपको झटके नहीं लगेंगे। इससे व्हील्स बबलिंग नहीं करते, झटका नहीं लगता। इससे आपकी यात्रा आसान और आरामदायक होगी।
पिंकसिटी बनी मेट्रोसिटी
आपात स्थिति में यात्रियों का मेट्रो ट्रेन के ड्राइवर से सीधा संपर्क हो सकेगा। ट्रेन के हर कोच में प्रत्येक गेट के पास एक-एक स्मार्ट फोन लगाया गया है। फोन के साथ एक कैमरा भी लगा है। संचालन का तरीका भी यहां लिखा हुआ है। किसी भी घटना, विशेष परिस्थिति के दौरान यात्री इसका उपयोग कर सकेंगे।
पिंकसिटी बनी मेट्रोसिटी
जयपुर मेट्रो ट्रेन को पूर्णत: स्मोक प्रूफ बनाया गया है। जैसे ही कहीं जरा भी धुआं जैसी स्थिति बनेगी, फायर फाइटिंग सिस्टम काम करने लगेगा। जिससे सिगरेट या बीड़ी पीने वाले के बारे में पता चल जाएगा और उस पर कार्रवाई की जाएगी। साथ ही अगर आग जाती है तो आग पर जल्द ही नियंत्रण हो सकेगा।
पिंकसिटी बनी मेट्रोसिटी
जयपुर मेट्रो का पिकअप भी दिल्ली मेट्रो से अधिक है। जयपुर मेट्रो में बोल्स्टर लेस बोगी है। यह सिस्टम 9 तरह के वाइब्रेशंस को सहन कर जाता है, जिससे ट्रेन की स्पीड बढ़ जाती है और इसका पिकअप भी दिल्ली मेट्रो के मुकाबले ज्यादा है।
पिंकसिटी बनी मेट्रोसिटी
जयपुर मेट्रो में किराए को लेकर भी काफी अच्छी व्यवस्था की गई है। मेट्रो में 5 रुपये की सबसे सस्ती टिकट है और 15 रुपये की सबसे महंगी टिकट होगी। साथ ही बाद में अधिक भीड़ के आधार पर भी मेट्रो का टिकट तय किया जाएगा।
पिंकसिटी बनी मेट्रोसिटी
जयपुर मेट्रो की ट्रेन में एक ऐसा सिस्टम लगाया है जिसके आधार पर एक अगर एक ट्रेन दूसरी ट्रेन से भिड़ जाती है तो वो आपस में चिपक जाएगी। इससे ज्यादा नुकसान नहीं होगा। साथ ही जयपुर मेट्रो के आगे और पीछे के कोच में कोलिजन बीम लगाए गए हैं। इसके कारण टकराने पर मेट्रो कभी ट्रैक से नहीं उतरेगी।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:jaipur metro