DA Image
25 नवंबर, 2020|7:34|IST

अगली फोटो

हिन्दुस्तान सुरक्षा चालीसा: कोरोना से युद्ध में सुरक्षित रहने का मंत्र

1 / 25

कोरोना महामारी से जंग अभी है जारी, मास्क लगाकर बाहर निकलो इसी में है समझदारी।

                                                                                                                                                     2
2 / 25

कोरोना से जंग में तैयारी रखो पूरी, सदा लगाओ मास्क तुम, रखो 2 गज दूरी।

                                                           -
3 / 25

बाहर जब भी जाइये, मास्क-सैनिटाइजर लगाइये,कोरोना महामारी को फैलने से बचाइए।

4 / 25

हाथ जोड़ सब करो नमस्ते, हाथ न कोय मिलाये, कुछ दिन का परहेज़ ये, देगा कोरोना भगाये।

                                                                                                                          -
5 / 25

दवा नहीं कोई इस रोग की, सावधानी ही समाधान,मास्क-सैनिटाइजर इस्तेमाल करो, ना हो तुम परेशान।

                                                                 -
6 / 25

हाथ धोइये साबुन से, मास्क-सैनिटाइजर लगाइये,खुद भी रहिये सुरक्षित, औरों को भी बचाइए।

                        -
7 / 25

कारीगरों- दुकानदारों को, बिक्री का उपहार करो। पर कोरोना से बचने को , समझदारी का व्यवहार करो।

8 / 25

मास्क ना लटके कान पर, ठोड़ी पर ना सजाइये। मुंह और नाक ढके बराबर, ऐसे मास्क लगाइये।

9 / 25

सबके घर की खुशियों खातिर, बाजार जरूर जाइये , पर जरूरी है सुरक्षा भी, सामाजिक दूरी को अपनाइये।

10 / 25

लॉकडाउन खत्म हो गया, पर कोरोना अभी बाकी है। बीमारी से इस जंग में, बस सावधानी सच्ची साथी है।

11 / 25

दीपों से जगमग हो घर , खुशियों से चहके हर आँगन पर मास्क और सामाजिक दूरी का, छूटने न पाए दामन।

                                                                                                                                           -
12 / 25

हर दीवाली पर गले मिलेंगे, पर हाथ जोड़िये इस बारी , मास्क-सैनिटाइज़र संग राखिये, सुरक्षा की पूरी तैयारी।

hindustan suraksha chalisa campaign
13 / 25

हिन्दुस्तान सुरक्षा चालीसा- कोरोना से लड़ाई का सिर्फ एक मंत्र है और वह है खुद की सुरक्षा।

hindustan suraksha chalisa campaign
14 / 25

सरहद लांघ कर आ गया, कोरोना है शत्रु का नाम। अब घर को ऐसा स्वच्छ रखो, जैसे हो कोई धाम।।

hindustan suraksha chalisa campaign
15 / 25

हाथ मिलाकर नहीं, इस युद्ध में कदम मिलाना होगा। अलग-अलग रहकर हमें, इस युद्ध में साथ निभाना होगा।।

hindustan suraksha chalisa campaign
16 / 25

चोरी चुपके चाल चलत ये, नगर में घुस के वार करत ये। जो नासमझी में निकले बाहर, उसके घर में जा घुसत ये।।

hindustan suraksha chalisa campaign
17 / 25

ये युद्ध है अनूठा, यहाँ गोली-बारूद काम न आये। जुग-जुग जिए वो मेधावी, जो साबुन सैनिटाइजर लगावे।।

hindustan suraksha chalisa campaign
18 / 25

आँखों से ये दिखे नहीं, पर प्राणों का संकट होय। जीतेगा वही इस युद्ध में, जो हाथों को अपने धोए।।

hindustan suraksha chalisa campaign
19 / 25

ठोकर खाकर सीख मिले, क्यों करना ऐसा काम। दवा नहीं इस रोग की, बचाव ही है समाधान।।

hindustan suraksha chalisa campaign
20 / 25

सड़कों पर उतर कर नहीं, ये युद्ध घरों से लड़ना होगा। इक्कीस दिनों का यह यज्ञ, हर घर में करना होगा।।

hindustan suraksha chalisa campaign
21 / 25

राशन वगैरह सब उपलब्ध है, काहे मचाना भगदड़। बस दूरी बराबर बनी रहे, तो रहे सुरक्षित हर घर।।

hindustan suraksha chalisa campaign
22 / 25

हो प्याज-टमाटर, फल-सब्जी या फिर हो पैकेट का दूध। धो-पोंछ सब साफ रखो, ये संकट है फिलहाल रोज़ का।

hindustan suraksha chalisa campaign
23 / 25

घर के बाहर और भीतर भी, लोगों से साधो दूरी। हर प्रियजन हो चिरायु, ये व्रत रखना है जरूरी।।

hindustan suraksha chalisa campaign
24 / 25

बच्चे इससे बचे रहेंगे, अगर हाथ धोयेंगे बार-बार। पहले साबुन फिर बच्चा, बना लो इसे संस्कार।।

hindustan suraksha chalisa campaign
25 / 25

बिना डॉक्टर के परामर्श के, दवा जहर बन सकती है। पता लगते ही पहुंचो कलीनिक, वरना ये बीमारी कहर बन सकती है।।

अगली गैलरी