DA Image

अगली फोटो

संसद भवन: सेंट्रल हॉल में लगी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर

लाइव हिन्दुस्तान
A life-size portrait of Atal Bihar Vajpayee was unveiled at the Central Hall of Parliament
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अटल बिहारी वाजपेयी को आदर्शों से कभी समझौता नहीं करने वाला दिग्गज राजनेता बताते हुए कहा कि व्यक्तिगत जीवन के हित के लिए कभी अपना रास्ता न बदलना और लोकतंत्र में स्पर्धी होने के बावजूद एक दूसरे के प्रति आदर भाव रखना.. यह पूर्व प्रधानमंत्री से सीखने वाली बात है। (फोटो-पीटीआई)
A life-size portrait of Atal Bihar Vajpayee was unveiled at the Central Hall of Parliament
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंगलवार को संसद भवन के केन्द्रीय कक्ष में पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी के आदमकद तैलचित्र का अनावरण किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, ''अटल जी के जीवन पर बहुत सी बातें की जा सकती हैं। घंटों तक कहा जा सकता है फिर भी पूरा नहीं हो सकता। ऐसे व्यक्तित्व बहुत कम होते हैं। (फोटो-पीटीआई)
A life-size portrait of Atal Bihar Vajpayee was unveiled at the Central Hall of Parliament
पीएम मोदी ने कहा, ''व्यक्तिगत जीवन के हित के लिए कभी अपना रास्ता न बदलना, ये अपने आप में सार्वजनिक जीवन में हम जैसे कई कार्यकर्ताओं के लिए बहुत कुछ सीखने जैसा है। (फोटो-पीटीआई)
A life-size portrait of Atal Bihar Vajpayee was unveiled at the Central Hall of Parliament
पीएम मोदी ने कहा कि लोकतंत्र में कोई दुश्मन नहीं होता है। लोकतंत्र में स्पर्धी होते हैं और स्पर्धी होने के बावजूद एक दूसरे के प्रति आदर भाव रखना, सम्मान के साथ देखना.. यह अटलजी से सीखने वाला विषय है। (फोटो-पीटीआई)
A life-size portrait of Atal Bihar Vajpayee was unveiled at the Central Hall of Parliament
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि अटलजी ने कितने ही साल संसद के गलियारे में समय गुजारा, दशकों तक सत्ता से दूर रहे, फिर भी लोगों की निष्ठा भाव से सेवा की, उनकी आवाज उठायी लेकिन व्यक्तिगत हित के लिये कभी रास्ता नहीं बदला। (फोटो-पीटीआई)
A life-size portrait of Atal Bihar Vajpayee was unveiled at the Central Hall of Parliament
प्रधानमंत्री ने कहा कि वाजपेयी जी ने राजनीति में उतार-चढ़ाव देखा, जय पराजय आई लेकिन आदर्शों से कभी समझौता नहीं किया। इसका कभी न कभी परिणाम मिलता है। पीएम मोदी ने कहा कि वाजपेयी के भाषण की चर्चा होती है लेकिन उनका मौन आज के समय में मनोविज्ञान की दृष्टि से शोध करने की बात है। (फोटो-पीटीआई)
A life-size portrait of Atal Bihar Vajpayee was unveiled at the Central Hall of Parliament
पीएम मोदी ने कहा कि जितनी ताकत उनके भाषण में थी, उतना ही अधिक प्रभाव उनके मौन में था। जब सभा में बोलते हुए, वे कुछ पल के लिये मौन हो जाते थे, तब भी लोगों में संदेश चला जाता था। इस युग में भी कब बोलना है, कब मौन रहना है.. यह सीखने जैसा है। (फोटो-पीटीआई)
A life-size portrait of Atal Bihar Vajpayee was unveiled at the Central Hall of Parliament
उल्लेखनीय है कि पिछले साल दिसंबर के अंत में पोर्ट्रेट समिति की बैठक में अटल बिहारी वाजपेयी का तैल चित्र केंद्रीय कक्ष में लगाने का निर्णय लिया गया था। (फोटो-पीटीआई)
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:A life-size portrait of Atal Bihar Vajpayee was unveiled at the Central Hall of Parliament