Skin Care Tips: Causes of Acne: How to Identify Causes - मुहांसों की वजह: कैसे पहचाने किस कारण से हो रहे हैं मुहांसे 1 DA Image
6 दिसंबर, 2019|11:45|IST

अगली फोटो

मुहांसों की वजह: कैसे पहचाने किस कारण से हो रहे हैं मुहांसे

हिन्दुस्तान फीचर टीम, नई दिल्ली
मुहांसों की समस्या से ज्यादातर युवा परेशान रहते हैं। छुटकारा पाने के लिए कई तरह के इलाज भी कराते हैं, पर मनचाहा फायदा नहीं होता। मुहांसे होने की कई वजहें हो सकती हैं, उन्हें जानकर ही उपचार करवाएं। जानकारी दे रहे हैं अशोक कुशवाहा हमारी त्वचा तीन परतों से बनी है। सबसे ऊपरी परत कुछ-कुछ समय बाद बदलती रहती है। ऐसा मृत त्वचा के झड़ जाने से होता है। यह प्रक्रिया चलती रहती है। उसके नीचे वाली परतों में नसें, रक्तनलिकाएं, तेल व पसीने की ग्रंथियां तथा हेयर फोलिकल (रोमकूप) होते हैं। सबसे नीचे वाली परत वसा कोशिकाओं से बनी होती है। सही ध्यान नहीं रखने पर तेल ग्रंथियां और मृत त्वचा रोमकूपों में रुकावट पैदा करती हैं, जिससे नईपरत बाहर नहीं निकल पाती। वहां त्वचा फूलकर दानों का रूप ले लेती है, जिसे मुहांसे कहते हैं।
acne
कैसे पहचाने किस कारण से हैं मुहांसे मुहांसे दो प्रकार के होते हैं। एक, छोटे-छोटे सफेद दाने होते हैं, जिनमें मवाद भर जाता है। दूसरे, लाल रंग के दाने होते हैं, जो ज्यादातर सूखी त्वचा वालों को होते हैं। क्यों होते हैं मुहांसे मुहांसे कई कारणों से हो सकते हैं। हार्मोन में असंतुलन होने पर मुहांसे निकलते हैं। इसके लिए खान-पान और जीवनशैली में सुधार करना जरूरी होता है। महिलाओं में पहले की तुलना में पीसीओडी और थायरॉएड के मामले बढ़े हैं।
cystic acne
माहवारी चक्र का सही नहीं होना भी मुहांसों का एक कारण होता है। गर्भावस्था के बाद भी कुछ महिलाओं में मुहांसे निकलते हैं। चेहरे पर बहुत अधिक धूप पड़ना भी मुहांसे के खतरे को बढ़ाता है। एक कारण शरीर में इंसुलिन ज्यादा बनना भी होता है, जिसके बारे में कम लोग ही जानते हैं। इसका मतलब यह है कि हमारे खानपान का हमारे मुहांसों से सीधा संबंध है। जिन्हें मुहांसे अधिक निकलते हैं, उन्हें हाई ग्लाइसेमिक खाना नहीं खाना चाहिए। ये वे चीजें होती हैं जिनमें कार्बोहाइडे्रट बहुत ज्यादा होता है।
acne
हाई ग्लाइसेमिक भोजन 'सफेद ब्रेड, नान और मैदे से बनी चीजें 'स्टार्चयुक्त सब्जियां जैसे आलू ' छोटे व मोटे चावल ' पाश्ता, नूडल, बर्गर आदि जंकफूड ' दूध या दूध से बनी चीजें 'केक, पेस्ट्री, बिस्कुट, चॉकलेट, कोल्ड ड्रिंक 'फलों में तरबूज
water melon
लो ग्लाइसेमिक भोजन लो ग्लाइसेमिक भोजन में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम और पोषक तत्व अधिक होते हैं। जैसे- ' ब्राउन ब्रेड, ओट्स व मछली ' बासमती और सेला चावल 'हरी पत्तेदार सब्जियां 'सरसों का तेल, राइस ब्रान तेल, जैतून का तेल, नारियल तेल, घी आदि ' बादाम, काजू, खुबानी आदि मेवे ' फलों में सेब, स्ट्राबेरी, अमरूद आदि डेयरी उत्पादों की भूमिका भारत में लगभग 75 प्रतिशत लोग दूध को ठीक ढंग से नहीं पचा पाते। ऐसे लोग अगर डेयरी उत्पाद का सेवन अधिक करते हैं तो उन्हें अपच होने लगता है, जिसके कारण उन्हें मुहांसे निकलने लगते हैं। चेहरे पर बहुत अधिक मुहांसे हो रहे हैं तो कुछसमय के लिए दूध या दूध से बने पदार्थों का सेवन बंद करके दखें। अगर मुहांसों की समस्या कम होती दिखे तो आगे से अपने आहार में डेयरी उत्पादों की मात्रा कम ही रखें। सोया मिल्क, नारियल दूध, बादाम का दूध ले सकते हैं।
source  pixabay
खाने में करें शामिल जिंक व आयरन युक्त चीजें जैसे हरी पत्तेदार सब्जियां, अनार आदि आहार में शामिल करें। विटामिन-सी त्वचा के लिए अच्छा होता है, इसके लिए खट्टे वर्ग के फल व सब्जियां खाएं। विटामिन ए, डी और ओमेगा-3 फैटी एसिड से युक्त चीजें लें। मछली व अखरोट में ओमेगा-3 खूब होता है। पानी भी पर्याप्त मात्रा में पिएं। जबड़े वाला हिस्सा जब लिवर ढंग से काम नहीं कर रहा हो तो जबड़े वाले हिस्से में मुहांसे निकलने लगते हैं। इसके लिए डॉक्टर से भी सलाह ले सकते हैं। गाल पर यह साफ संकेत है कि हमारा पाचन तंत्र सही से काम नहीं कर रहा है। अपच के कारण ऐसा होता है। इसके लिए आप भोजन में फाइबर युक्त चीजें शामिल करें। सुपाच्य भोजन करें। माथे पर माथे पर मुहांसे सिर में खुश्की और रूसी के कारण भी निकलते हैं। बाल खुजलाने के बाद तुरंत हाथ से चेहरा छू लेना भी मुहांसे निकलने का कारण हो सकता है।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Skin Care Tips: Causes of Acne: How to Identify Causes