DA Image

अगली फोटो

Health Tips : बेहतरीन नाश्ता है दलिया, वेट लॉस और डायबिटीज में फायदेमंद

हिन्दुस्तान फीचर टीम, नई दिल्ली
dalia
दलिया कई पौष्टिक तत्वों से भरपूर एक संपूर्ण आहार है। यह खाने में सुपाच्य है, इसलिए छोटे और बड़े, बीमार और स्वस्थ दोनों के लिए इसे खाना फायदेमंद है। मीठा या नमकीन, दूध, दही या सब्जी, कैसे भी इसे खा सकते हैं। इसके सेवन से शरीर में ऊर्जा का संचार होता है। विटामिन और प्रोटीन जैसे कई पौष्टिक तत्वों के साथ-साथ यह कम कैलोरी वाला उच्च फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ है। आयरन, मैग्नीशियम, पोटैशियम, प्रोटीन, कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन्स आदि होने के कारण अगर सुबह नाश्ते में एक बार इसे खाया जाए तो कई पौष्टिक तत्वों की पूर्ति हो जाती है। मीठा या नमकीन सब्जियों को मिलाकर बनाया गया दलिया किसी भी रूप में ले सकते हैं। मूंग छिलके की दाल के साथ या मल्टीग्रेन दलिया भी काफी पौष्टिक होता है। अगर मधुमेह, हृदय व किडनी रोगों की समस्या है तो नमक व चीनी की मात्रा कम ही रखें। दलिया के फायदों के बारे में बता रही हैं प्राची गुप्ता
weight loss
क्रेविंग दूर करे दलिया : क्रेविंग यानी बिना भूख के बार-बार किसी चीज को खाने की इच्छा होना। जिन्हें भी यह समस्या रहती है, उन्हें दलिया खाना चाहिए। दलिया फाइबर से भरपूर होता है, जिससे इसे खाने के बाद देर तक पेट भरे रहने का एहसास होता है। तृप्ति का यह एहसास देर तक भूख नहीं लगने देता। यही वजह है कि वजन कम करने के इच्छुकों को भी नियमित वेजिटेबल दलिया खाने की सलाह दी जाती है।
diabetes
डायबिटीज में फायदेमंद : डायबिटीज के रोगियों को दलिया जरूर खाना चाहिए। दलिया मैग्नीज का बेहतरीन स्रोत है, जो डायबिटीज को काबू रखता है। इसके लिए हो सके तो कम डायबिटीज के रोगियों को दूध के दलिया का सेवन कराना चाहिए। मीठे के लिए चीनी की जगह ड्राई फ्रूट मिलाने चाहिए।
dalia
बरतें सावधानी: यूं तो दलिया खाने के लाभ ही हैं। पर अधिक मात्रा में फाइबर होने के कारण यह नुकसान भी कर सकता है। दिन में दो बार से ज्यादा दलिया का सेवन ना करें। अधिक दलिया खाने से पेट में गैस और सूजन की समस्या भी हो सकती है।
ये फायदे भी जानें : कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाने की समस्या आम हो गई है। नियमित सब्जियों से भरपूर दलिया खाना कोलेस्ट्रॉल को काबू रखने में मदद करता है।
iron deficiency
शरीर में आयरन की कमी होने से हीमोग्लोबिन का स्तर काफी हद तक कम हो जाता है, जिससे शरीर कमजोर और थका हुआ महसूस करने लगता है। दलिया आयरन का अच्छा स्रोत माना जाता है।
strong bones
दलिया में मौजूद कैल्शियम और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्व शरीर की हड्डियों को मजबूत करने में मदद करते हैं। बढ़ती उम्र के साथ हड्डियां कमजोर होती जाती हैं, पर दलिया का नियमित सेवन हड्डियों को स्वस्थ रखता है।
dalia
दलिया में कार्बोहाइड्रेट होता है, जो शरीर को ऊर्जा देता है। रोजाना सुबह नाश्ते के वक्त इसका सेवन करने से शरीर को दिनभर के कार्यों के लिए ऊर्जा मिलती है। विटामिन बी1, बी2, मिनरल्स, मैग्नीशियम, मैग्नीज आदि की मौजूदगी से पौष्टिक तत्व भी मिल जाते हैं। सुपाच्य होने के कारण यह अपच में भी राहत देता है।
dalia
फाइबर की प्रचुरता होने के कारण दलिया पेट के रोगों में फायदा पहुंचाता है। इससे कब्ज, अपच, बदहजमी में फायदा मिलता है। (विशेषज्ञ: दीपक गोस्वामी, नेचुरल डायटिशियन, दीपांजलि आयुर्वेद, गाजियाबाद)
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Health Tips Dalia Best Breakfast helpful in Weight Loss and Diabetes