DA Image
1 अप्रैल, 2020|1:06|IST

अगली फोटो

BOOK LAUNCH करते मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर

Sachin Tendulkar during the book launch of Dipa Karmakar: The Small Wonder in Mumbai
1 / 6

सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट को ओलंपिक खेलों में शामिल करने की वकालत करते हुए कहा कि अब इस खेल के अलग-अलग प्रारूप हैं और इसके खेल महाकुंभ में शामिल होने से इसका विश्व में अधिक प्रसार होगा। (फोटो-पीटीआई)

Sachin Tendulkar during the book launch of Dipa Karmakar: The Small Wonder in Mumbai
2 / 6

सचिन तेंदुलकर ने 'दीपा करमाकर-द स्मॉल वंडर किताब के मुंबई में विमोचन के अवसर पर कहा, ''क्रिकेटर होने के नाते मैं कहूंगा कि खेल का वैश्वीकरण होना चाहिए। (फोटो-पीटीआई)

Sachin Tendulkar during the book launch of Dipa Karmakar: The Small Wonder in Mumbai
3 / 6

सचिन तेंदुलकर ने कहा, ''कुछ समय पहले मैं रियो ओलंपिक में था। मैंने थॉमस बाक (आईओसी अध्यक्ष) से बात की और उनसे कहा कि मुझे लगता है कि क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल किया जाना चाहिए। (फोटो-पीटीआई)

Sachin Tendulkar during the book launch of Dipa Karmakar: The Small Wonder in Mumbai
4 / 6

सचिन तेंदुलकर ने कहा कि अगर क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करना है, तो अन्य टीमों को तैयारियों के लिये पर्याप्त समय दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ''बाक के दिमाग में यह बात थी कि पांच दिनी क्रिकेट को कैसे ओलंपिक में शामिल किया जा सकता है। (फोटो-पीटीआई)

Sachin Tendulkar during the book launch of Dipa Karmakar: The Small Wonder in Mumbai
5 / 6

क्रिकेट उन कुछेक खेलों में शामिल हैं जिसके कई प्रारूप हैं जैसे वनडे, टी20, टी10 और जब तक (आईओसी) क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल किया जाता है तो हो सकता है कि तब तक 5 ओवरों का खेल भी शुरू हो जाए। (फोटो-पीटीआई)

Sachin Tendulkar during the book launch of Dipa Karmakar: The Small Wonder in Mumbai
6 / 6

मास्टर ब्लास्टर ने कहा, ''क्रिकेटर होने के नाते मुझे लगता है कि यह खेल ओलंपिक में होना चाहिए। मैं निसंदेह ऐसा देखना चाहता हूं। (फोटो-पीटीआई)

अगली गैलरी