DA Image

अगली फोटो

ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़

ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
क्रिकेट को जिंदगी मानने और फिर खेल के मैदान से ही दुनिया को अलविदा कहने वाले 25 वर्षीय फिलिप ह्यूज़ के अंतिम संस्कार में बुधवार को क्रिकेटरों से लेकर हजारों प्रशंसक भावभीनी श्रद्धांजलि देने पहुंचे।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
केले की खेती के लिये जाने वाले छोटे से क्षेत्र मैक्सविल में क्रिकेट का सपना लेकर पले बढ़े ह्यूज़ अचानक ही दुनिया को छोटी सी उम्र में अलविदा कह गये और अपने पीछे यादों का अंबार छोड़ गये जिसने उनके चाहने वालों को अंदर तक झकझोर कर रख दिया। शायद यही कारण है कि क्रि केट के किसी दिग्गज की तरह दुनिया और देशवासियों ने उन्हें अलविदा कहा।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
ह्यूज़ के गृहनगर मैक्सविल हाई स्कूल में एकत्र हुए ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर, परिवार, दोस्त, रिश्तेदार और प्रशंसकों की उमड़ी भारी भीड़ ने क्रिकेट के इस दीवाने खिलाड़ी को पूरी श्रद्धा और अपनत्व के साथ विदा किया।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
इस दौरान उनके टीम साथी और खास दोस्त कप्तान माइकल क्लार्क एक बार फिर अपने सब्र का बांध खो बैठे और उनकी अर्थी को कंधा देने वाले ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी अपने दोस्त को अंतिम विदाई देते हुये फूटफूट कर रो पड़े।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
इस दौरान शेन वॉर्न, रिकी पोंटिंग, ग्लेन मैकग्रा, ब्रायन लारा, रिचर्ड हैडली, विराट कोहली जैसे दुनिया भर के क्रिकेटरों ने भी ह्यूज़ को विदाई दी।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
स्कूल हाल में एकत्रित हजारों स्थानीय प्रशंसकों की भीड़ के बीच ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री टोनी एबॉट भी अपनी भावनाओं पर काबू नहीं कर सके और नम आंखों के साथ बेहद भावुक दिखाई दिये।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
ह्यूज़ के पिता और भाई के अलावा क्लार्क, एरन फिंच तथा टॉम कूपर ने भी उनका कॉफिन उठाकर अर्थी को कंधा दिया।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
ह्यूज़ के संस्कार को हादसे वाले सिडनी क्रिकेट ग्राउंड सहित ऑस्ट्रेलिया के कई शहरों में बड़ी बड़ी स्क्रीन पर दिखाया गया।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
गेदंबाज शॉन एबॉट भी ह्यूज़ को अंतिम विदाई देने पहुंचे। गत मंगलवार को ह्यूज सिडनी ग्राउंड पर ही शैफील्ड शील्ड मैच के दौरान शॉन एबॉट के बाउंसर से बुरी तरह घायल हो गये थे और कोमा में जाने के दो दिन बाद उनका निधन हो गया था।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
ह्यूज़ भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज के पहले मुकाबले में वह चोटिल क्लार्क की जगह लेने वाले थे। हालांकि किस्मत को शायद यह मंजूर नहीं था और अपने आखिरी मैच में नाबाद 63 रन बनाकर ह्यूज़ दुनिया को ही छोड़ गये।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
वर्ष 2009 में टेस्ट क्रिकेट में कदम रखने वाले ह्यूज़ ऑस्ट्रेलिया के 408वें खिलाड़ी थे। बेहद कम उम्र में निधन के कारण लोगों को उनके जाने का दुख अधिक रहा है और यही कारण है कि उनके निधन के बाद से ही दुनियाभर से लोग ह्यूज़ को अपनी ओर से श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे है।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
ह्यूज़ के सम्मान में ऑस्ट्रेलिया में कई लोगों ने अपने घरों, कार्यालयों और स्पोर्ट्स ग्राउंड के बाहर बल्ले रखे हैं।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
आखिरी दर्शन के लिये रखे ह्यूज़ के कॉफिन के पास भी उनका बल्ला रखा गया।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
ह्यूज के अंतिम संस्कार को उनके चाहने वालों ने किसी समारोह की तरह मनाया। पिछले रविवार 30 नवंबर को ही 26 वर्ष में कदम रखने वाले ह्यूज़ जिंदगी को आगे जी तो नहीं सके लेकिन यादों में वह हमेशा अमर जरूर रहेंगे।
ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़
गत सप्ताह मशहूर गायक एल्टन जॉन ने म्युनिख में एक कॉन्सर्ट के दौरान ह्यूज़ के सम्मान में गाना गाया डोन्ट लेट द सन गो डाउन ऑन मी..।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ह्यूज़ को आखिरी सलाम के लिये उमड़ी हजारों की भीड़