DA Image
हिंदी न्यूज़   › फोटो   › बिजनेस  ›  आत्मनिर्भर भारत: कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने की ये घोषणाएं
बिजनेस

आत्मनिर्भर भारत: कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने की ये घोषणाएं

Fri, 15 May 2020 06:47 PM
आत्मनिर्भर भारत: कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने की ये घोषणाएं
1/7

आत्मनिर्भर भारत और कोरोना वायरस लॉकडाउन से प्रभावित अर्थव्यवस्था के लिए पीएम मोदी की ओर से घोषित 20 लाख करोड़ के पैकेज के तीसरे हिस्से का वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को ऐलान किया। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कृषि और इससे जुड़ी गतिविधियों के लिए 11 कदमों की घोषणा की। (Photo-Sonu Mehta/HT)

आत्मनिर्भर भारत: कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने की ये घोषणाएं
2/7

खेती से जुड़े इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने के लिए 1 लाख करोड़ रुपए का फंड दिया गया है। इसके अलावा किसानों को उनके उत्पाद की सही कीमत दिलाने के लिए तीन सुधारों का ऐलान भी किया गया है। आज कुल डेढ़ लाख करोड़ रुपए के पैकेज का ऐलान किया गया। (Photo-Sonu Mehta/HT)

आत्मनिर्भर भारत: कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने की ये घोषणाएं
3/7

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि कोरोना लॉकडाउन के दौरान किसानों के लिए कई कदम उठाए गए। एएसपी के रूप में उन्हें 74 हजार 300 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं तो पीएम किसान के जरिए उन्हें 18 हजार 700 करोड़ रुपए दिए गए हैं। पीएम फसल बीमा योजना के तहत 6400 करोड़ रुपए का मुआवाजा दिया गया है। (Photo-Sonu Mehta/HT)

आत्मनिर्भर भारत: कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने की ये घोषणाएं
4/7

कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए 1 लाख करोड़ रुपए- वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि किसान देश का पेट भरने के साथ निर्यात भी करता है। अनाज भंडारण, कोल्ड चेन और अन्य कृषि आधारित इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए 1 लाख करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। कृषि उत्पादक संघ, कृषि स्टार्टअप आदि का भी इसका लाभ होगा। (Photo-Sonu Mehta/HT)

आत्मनिर्भर भारत: कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने की ये घोषणाएं
5/7

माइक्रो फूड एंटरप्राइजेज (एमएफई) के फॉर्मलाइजेशन के लिए 10 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इससे देश के अलग-अलग हिस्सों के उत्पादों को ब्रैंड बनाया जाएगा। लगभग 2 लाख घाद्य प्रसंस्करण इकाइयों को इसका लाभ मिलेगा। इससे जुड़े लाखों लोगों के लिए रोजगार के अवसर बढ़ंगे। (Photo-Sonu Mehta/HT)

आत्मनिर्भर भारत: कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने की ये घोषणाएं
6/7

पीएम मतस्य संपदा योजना के लिए 20 हजार करोड़ रुपए रखे गए हैं। इसके वैल्यू चेन में मौजूद खामियों को दूर किया जाएगा।11 हजार करोड़ रुपए समुद्री मत्स्य पालन और 9 हजार करोड़ रुपए इसके लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार करने के लिए खर्च किए जाएंगे।इससे अगले 5 साल में मतस्य उत्पादन 70 लाख टन बढ़ेगा। (Photo-ANI)

आत्मनिर्भर भारत: कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने की ये घोषणाएं
7/7

किसान जहां चाहें वहां बेच सकेंगे उत्पाद- किसान को अभी एपीएमसी लाइसेंस धारकों को ही अपना उत्पाद बेचना पड़ता है। किसानों को अपने उत्पाद की सही कीमत मिले और दूसरे राज्यों में जाकर भी उत्पाद बेच सकें उसके लिए कानूनी में बदलाव किया जाएगा। एक केंद्रीय कानून के तहत उन्हें किसी भी राज्य में अपना उत्पाद ले जाकर बेचने की छूट होगी।(Photo-ANI)

अगली गैलरी