DA Image
हिंदी न्यूज़   › फोटो   › पंचांग-पुराण  ›  Chaitra Navratri 2019: इस वर्ष राजा शनिदेव और मंत्री होंगे सूर्य
पंचांग-पुराण

Chaitra Navratri 2019: इस वर्ष राजा शनिदेव और मंत्री होंगे सूर्य

Mon, 01 Apr 2019 03:05 PM
Chaitra Navratri 2019: इस वर्ष राजा शनिदेव और मंत्री होंगे सूर्य
1/5

नवसंवत्सर 2076 इस वर्ष चैत्र मास की प्रतिपदा 6 अप्रैल से शुरू होंगे। इस वर्ष राजा शनिदेव और मंत्री सूर्य हैं। सस्येश (फसलों) के स्वामी मंगल होने से पैदावार पर असर पड़ सकता है। मेघेश के स्वामी शनि होने से कहीं वर्षा होगी तो कहीं सूखा की स्थिति पड़ सकती है।

Chaitra Navratri 2019: इस वर्ष राजा शनिदेव और मंत्री होंगे सूर्य
2/5

नवसम्वत्सर की धूम शनिवार से मचेगी। ज्योतिषों के मुताबिक इस बार शनि के राजा होने से कई प्रतिकूल परिस्थितियों से राष्ट्र को जूझना पड़ेगा। आचार्य पं. दीपक पाण्डेय का कहना है कि काशी पाचांग के अनुसार संवत का आरम्भ कर्क लग्न में हो रहा है। प्रवेश लग्न में गुरु, शनि व केतु की युति छठे भाव में है। इससे मंगल के साथ षडाष्टक योग बन रहा है। यह भारत की राजनीति, सुरक्षा आदि की दृष्टि से शुभ नहीं है। चंद्रमा नवम भाव में सूर्य के साथ है, जो कि ठीक स्थिति है। आठवें भाव में बुध, शुक्र की स्थिति घरेलू मामलों में उचित नहीं है।

Chaitra Navratri 2019: इस वर्ष राजा शनिदेव और मंत्री होंगे सूर्य
3/5

धान्येश स्वामी चंद्रमा कृपा करेंगे : पं. आचार्य ब्रह्मदत्त शुक्ल का कहना है कि चैत मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को नव सम्वत्सर का आरंभ होता है। ग्रहों की दशा के राजा का पद शनि, मंत्री सूर्य के पास होगा। मंगल फसल का स्वामी होने से पैदावार में प्रतिकूल असर पड़ेगा। धान्येश चंद्रमा की कृपा हो सकती है। रसदार वस्तुओं की पैदावार अधिक होगी। चावल और कपास की पैदावार अच्छी हो सकती है। दूध और उसके उत्पादों के संकट दूर हो सकते हैं। तालाब और नदियों की स्थिति अच्छी हो सकती है।

Chaitra Navratri 2019: इस वर्ष राजा शनिदेव और मंत्री होंगे सूर्य
4/5

दुर्गेश स्वामी शनि होंगे पं. प्रभात वाजपेयी का कहना है कि रसेश का स्वामी गुरु के होने से साधनों में वृद्धि के साथ आर्थिक सम्पन्न लोगों को यह लाभकारी हो सकता है। दुर्गेश (सेना) के इस समय शनि होंगे। इससे अपराधियों और देशद्रोहियों के प्रति कठोर कदम उठाए जा सकते हैं। अपराध पर सख्ती की जाएगी।

Chaitra Navratri 2019: इस वर्ष राजा शनिदेव और मंत्री होंगे सूर्य
5/5

खगोलीय आकलन ’ 2076 संवत का होगा स्वागत षडाष्टक के योग भी बन रहे हैं ’ मेघेश के स्वामी शनि होने से कहीं वर्षा तो कहीं सूखा पड़ेगा ’ कई प्रतिकूल परिस्थितियों से भी जूझना पड़ेगा देश को संवत का आरंभ कर्क लग्न से

अगली गैलरी