DA Image

अगली फोटो

20 साल बाद सावन के सोमवार को पड़ेगी नागपंचमी , इन राशि वालों को पौधा रोपने से मिलेगी सुख-सम्पन्नता

वरिष्ठ संवाददाता, लखनऊ।
Nag panchami
इस बार नाग पंचमी पर एक अति महत्त्वपूर्ण योग का निर्माण हो रहा है जो 20 साल बाद बना है। जो अति शुभ योगकारक है। उत्थान ज्योतिष संस्थान के निदेशक पं. दिवाकर त्रिपाठी पूर्वांचली के मुताबिक इससे पूर्व यह संयोग 25 अगस्त 1999 को श्रावण शुक्ल पक्ष पंचमी को बना था। परन्तु इस वर्ष इस योग के साथ-साथ अन्य संयोग भी बन रहे है जो इसके महत्त को बढ़ाने वाले है।
shiv bhagwan maa gauri
उन्होंने बताया कि सावन के सोमवार और नागपंचमी दोनों का विशेष महत्त्व होता है। उस पर भी जब दोनों का योग एक साथ हो जाये तो इसके माहात्म्य में अति वृद्धि हो जाती है। इस वर्ष पंचमी तिथि चार अगस्त दिन रविवार को रात में 11:03 बजे से शुरू होकर पांच अगस्त को पूरा दिन विद्यमान रहकर रात में 08:41 बजे तक है। इस दिन सुबह 06:54 बजे तक उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र, उसके बाद शाम को 05:24 बजे तक हस्त नक्षत्र। उसके बाद चित्रा नक्षत्र लग जायेगी।
सिद्ध योग और श्रीवत्स योग के साथ-साथ, बुद्धि कारक ग्रह बुध और मन कारक ग्रह चन्द्र राशि परिवर्तन योग में विद्यमान रहेंगे। इस दिन सूर्य, मंगल, बुध और शुक्र का एक साथ कर्क राशि मे चतुष्ग्रही होकर विद्यमान होना इस तिथि की शुभता को बढ़ाने वाला होगा।
Horoscope
ज्योतिषाचार्य एसएस नागपाल के मुताबिक नाग पंचमी के दिन प्रत्येक व्यक्ति को अपनी राशि और लग्न के अनुसार प्रति वर्ष कम से कम एक वृक्ष अवश्य लगाना चाहिए। जिससे जीवन में सुख सम्पन्नता के साथ साथ ग्रहों की शांति और ग्रहों के प्रभाव में वृद्धि होती है। लक्ष्मी प्राप्ति हेतु :- बेल, तुलसी, केला, आंवला लगाएं नाग पूजा का विशेष महत्व आचार्य जितेन्द्र शास्त्री ने बताया कि ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस दिन नाग देवता के पूजन से कुण्डली में विद्यमान सर्प योग, सहित समस्त ग्रहों की अशुभता को शुभता में परिवर्तित किया जा सकता है। इस दिन रुद्राभिषेक , महामृत्युंजय, काल सर्प पूजन आदि किया जाना श्रेयष्कर होता है। रोग नाश के लिए कुश की जड़ के रस से अगर भगवान भोलेनाथ का रुद्राभिषेक किया जाए तो चमत्कारिक फल प्राप्त होता है
amla
मेष राशि :- आम और आवंला वृष राशि :- जामुन एवं गूलर मिथुन राशि:-बरगद और बांस कर्क राशि :- पीपल और पलाश सिंह राशि :- बरगद, जामुन और मदार कन्या राशि :- अमरूद, बेल तुला राशि :- मौलश्री, अर्जुन, चीकू वृश्चिक राशि :-नीम ,पीपल एवं मदार धनु राशि :- कदम्ब मकर राशि :-शमी एवं गूलर कुम्भ राशि :-शमी ,आम मीन राशि :- पीपल ,आम एवं नीम
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:After 20 years on Savan Monday Nagpanchamithese zodiacal people will get pleasure from sowing the plant