श्राद्ध 2019 shradh 2019 tarpana Pitrs in Pitru Paksha| Page 1 DA Image

अगली स्टोरी

श्राद्ध 2019

# श्राद्ध 2019

इस साल पितृपक्ष 13 सितंबर से शुरू हो गए हैं। ऐसी मान्यता है कि इन 16 दिन हमारे पितृ पितृलोक से पृथ्वीलोक पर आते हैं। इन दिनों में पितृों को पिण्ड दान तथा तिलांजलि कर उन्हें संतुष्ट करना चाहिए। श्राद्ध के सोलह दिनों में लोग अपने पितरों को जल देते हैं तथा उनकी मृत्युतिथि पर श्राद्ध करते हैं।  ऐसी मान्यता है कि इन दिनों में हमारे पितर पितृलोक से पृथ्वीलोक पर आते हैं। वैसे तो प्रत्येक मास की अमावस्या को श्राद्ध कर्म किया जा सकता है, लेकिन भाद्रपद मास की पूर्णिमा से लेकर आश्विन मास की अमावस्या तक पूरा पखवाड़ा श्राद्ध कर्म करने का विधान है। पितृपक्ष 13 से शुरू होकर 28 सितंबर को पितृविसर्जन के साथ समाप्त होगा। पिता के लिए अष्टमी तो माता के लिये नवमी की तिथि श्राद्ध करने के लिये उपयुक्त मानी जाती है।

अन्य खबरें

  • 1
  • of
  • 28

चुटकुले

आलसी की मेडिकल टर्म

बबलू ने कहा: मेरा घर के किसी काम को करने का मन नहीं करता चाहे वो जितना जरुरी हो। मुझे बताएं समस्या क्‍या है। 

डॉक्टर ने कहा: आप आलसी हैं। 

बबलू ने कहा: अब इसी को मेडिकल टर्म में बताइए, ताकि मैं इसे अपनी बीवी को बता सकूं।