#सावन2017

भगवान शिव को प्रिय सावन मास की शुरुआत हो चुकी है। जिसका समापन सात अगस्‍त को होगा। इस बार सावन मास में पांच सोमवार पड़ेंगे। पहला सोमवार 10 जुलाई एवं आखिरी सात अगस्त को है। मान्यता है कि सावन में भगवान शिव के पूजन और अभिषेक से श्रद्धालुओं की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। इस बार 17 वर्ष के बाद सावन मास में अलौकिक योग का संयोग है। सावन की शुरुआत चंद्राश योग में हो रही है। सावन की शुरुआत एवं समापन सोमवार से होना भी विशेष योग है। तीन वर्ष के बाद सावन में पांच सोमवार का योग बना है। पांच सोमवार के चलते महागजकेशरी योग का संयोग अति फलदायी है।

  • 1
  • of
  • 9

गप्पू- हम पानी क्यों पीते हैं...?

गप्पू- हम पानी क्यों पीते हैं...?

फेंकू- मैं बताता हूं..

गप्पू- अच्छा तो बता..

फेंकू- क्योंकि हम पानी को खा नहीं सकते। मैं बचपन से ही जीनियस हूं पर कभी घमंड नहीं किया..