फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News ओडिशानवीन पटनायक के कांपते हाथ को पांडियन ने छिपाया? वायरल वीडियो पर हमलावर हुई भाजपा

नवीन पटनायक के कांपते हाथ को पांडियन ने छिपाया? वायरल वीडियो पर हमलावर हुई भाजपा

ओडिशा में विधानसभा और लोकसभा चुनाव के तहत अब तक तीन चरण का मतदान हुआ है। राज्य में, चौथे और अंतिम चरण का मतदान एक जून को होना है, जब लोकसभा की छह और विधानसभा की 42 सीट के लिए वोट डाले जाएंगे।

नवीन पटनायक के कांपते हाथ को पांडियन ने छिपाया? वायरल वीडियो पर हमलावर हुई भाजपा
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,भुवनेश्वरTue, 28 May 2024 04:46 PM
ऐप पर पढ़ें

1 जून को होने वाले लोकसभा चुनाव के 7वें और अंतिम चरण से मतदान से पहले, एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक का एक वीडियो सामने आया है। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में, भाषण के दौरान मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के हाथ कांपते हुए दिखाई दे रहे हैं। इतना ही नहीं, मुख्यमंत्री के करीबी सहयोगी और बीजू जनता दल (बीजद) के वरिष्ठ नेता वीके पांडियन कथित तौर पर नवीन पटनायक के हाथ को छिपाते नजर आ रहे हैं। 

अब इस वीडियो को शेयर कर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ओडिशा की सत्ताधारी पार्टी पर निशाना साध रही है। असम के मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा ने मंगलवार को दावा किया कि वीके पांडियन मुख्यमंत्री पटनायक को कंट्रोल कर रहे हैं। शर्मा ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा, "यह बेहद व्यथित करने वाला वीडियो है। श्री वीके पांडियन जी तो श्री नवीन बाबू के हाथों की गतिविधियों को भी कंट्रोल कर रहे हैं। मैं यह कल्पना करके कांप उठता हूं कि तमिलनाडु का एक रिटायर्ड पूर्व नौकरशाह वर्तमान में ओडिशा के भविष्य पर किस स्तर का नियंत्रण कर रहा है! भाजपा राज्य के लोगों को ओडिशा का शासन वापस देने के लिए प्रतिबद्ध है।"

यहां देखें वीडियो- 

गौरतलब है कि लोकसभा और विधानसभा चुनाव ओडिशा में एक साथ हो रहे हैं। ओडिशा में विधानसभा और लोकसभा चुनाव के तहत अब तक तीन चरण का मतदान हुआ है। राज्य में, चौथे और अंतिम चरण का मतदान एक जून को होना है, जब लोकसभा की छह और विधानसभा की 42 सीट के लिए वोट डाले जाएंगे। इससे पहले असम के मुख्यमंत्री ने दावा किया था कि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को पांडियन ने ‘‘बंधक’’ बना रखा है। भाजपा नेता ने पटनायक से लोगों से सम्मान पाने के लिए अकेले बाहर आने की अपील की।

हिमंत ने कहा, ‘‘मैं एक चीज कहना चाहूंगा कि भाजपा सरकार 10 जून को शपथ लेगी। हमें पांडियन (बीजद नेता वी. के. पांडियन) को 11 जून को तमिलनाडु भेजना है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘एक ‘टी’ का मतलब टीम वर्क होता है। क्या ओडिशा में कोई टीम वर्क है? निर्वाचित विधायकों, सांसदों और मंत्रियों के पास उपयोग करने के लिए कोई शक्ति नहीं है। यहां केवल एक टीम मौजूद है...जो पांडियन एवं उनकी पत्नी और केवल एक ‘टी’ है जिसका अभिप्राय तमिलनाडु है।’’