फोटो गैलरी

Hindi Newsसंबंधों और कटौती को अलग रखना चाहता है अमेरिका

संबंधों और कटौती को अलग रखना चाहता है अमेरिका

विदेश विभाग की प्रवक्ता जेन प्साकी ने कहा कि अमेरिका पाकिस्तान के साथ संबंधों के महत्व को पहचानता...

संबंधों और कटौती को अलग रखना चाहता है अमेरिका
Thu, 04 Jul 2013 12:35 PM
ऐप पर पढ़ें

अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक एवं सुरक्षा सहायता में कटौती करने के कांग्रेस से किए गए अनुरोध और देश के साथ अपने संबंधों को अलग-अलग रखते हुए कहा है कि उसका इस्लामाबाद के साथ रिश्तों को कमजोर करने का कोई इरादा नहीं है।
   
विदेश विभाग की प्रवक्ता जेन प्साकी ने कहा कि अमेरिका पाकिस्तान के साथ संबंधों के महत्व को पहचानता है। कांग्रेस की ताजम रिपोर्ट के अनुसार ओबामा प्रशासन ने अमेरिकी कांग्रेस से वर्ष 2014 के लिए पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक और सुरक्षा सहायता में भारी कटौती करने का अनुरोध किया है।
   
यदि यह अनुरोध मान लिया जाता है तो पाकिस्तान को अमेरिका से मिलने वाली सहायता में वर्ष 2012 के मुकाबले एक तिहाई से अधिक की गिरावट आ जाएगी।
   
यह पूछने पर कि क्या इसे पाकिस्तान के साथ अमेरिकी संबंधों के संभावित रूप से कमजोर होने के संकेत के तौर पर देखा जाना चाहिए, प्साकी ने कहा कि बिल्कुल नहीं। विदेश मंत्री पाकिस्तान का दौरा करना चाहते हैं। वह पाकिस्तान के साथ संबंधों की अहमियत पहचानते हैं।
   
उन्होंने कहा कि जैसा कि आप जानते हैं कि विदेश मंत्री ने प्रधानमंत्री (नवाज शरीफ) के चुने जाने के बाद कई बार उनकी बात की है। प्साकी ने कहा कि उन्होंने अभी कांग्रेस की रिपोर्ट पढ़ी नहीं है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें