DA Image
12 जुलाई, 2020|10:17|IST

अगली स्टोरी

अधिवक्ता व बेटे की हत्या के खिलाफ कचहरी में हड़ताल

अधिवक्ता व बेटे की हत्या के खिलाफ कचहरी में हड़ताल

चंदौली में सिविल बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष प्रेम नारायण सिंह और उनके बेटे की हत्या के विरोध में मंगलवार को कचहरी के वकील न्यायिक कार्य से विरत रहे। वकीलों ने जुलूस निकाल पर डीएम पोर्टिको में नारेबाजी की और एसीएम चतुर्थ को ज्ञापन सौंपा।

पांच दिन पहले प्रेम नारायण व बेटे की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसको लेकर सोमवार को सेंट्रल बार के सभागार में हंगामी बैठक हुई थी। वकील हड़ताल के मूड में थे, लेकिन उन्हें शांत कराया गया। मंगलवार को सेंट्रल और बनारस बार एसोसिएशनों की फिर बैठक हुई। हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग और वकीलों की सुरक्षा के सवाल पर हंगामा होने लगा। बाद में वकीलों ने हड़ताल पर जाने का निर्णय किया।

इसके बाद वकील जुलूस के साथ निकले। न्यायिक कामकाज ठप कराते हुए डीएम पोर्टिको पहुंचकर धरने पर बैठ गये। नारेबाजी के दौरान एसीएम चतुर्थ पहुंचे। वकीलों ने उन्हें मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में मृत अधिवक्ता के परिवार को 50 लाख रुपये मुआवजा देने, हत्यारों की तत्काल गिरफ्तारी, पीड़ित परिवार और प्रदेश के वकीलों की सुरक्षा की मांग की गयी है।

प्रदर्शन में सेंट्रल बार अध्यक्ष अशोक सिंह ‘प्रिंस, महामंत्री ओमप्रकाश पांडेय, बनारस बार अध्यक्ष अनिल कुमार पांडेय, महामंत्री आनंद कुमार मिश्रा, राधेश्याम सिंह, अमरनाथ शर्मा, अशोक राय, शिवपूजन सिंह गौतम, राजेश पांडेय, संतोष तिवारी,सूर्यभान सिंह,,रंजन मिश्रा, विनोद पांडेय,उमाशंकर दुबे, उग्रसेन मिश्रा, सजीवन यादव, धीरेंद्र श्रीवास्तव,आमोद त्रिपाठी, राकेश पांडेय,अश्वनी राय आदि रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The murder of lawyer and the son against the strike in court