DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाबा रामदेव के भाई रामभरत जेल से रिहा

पतंजलि फूड हर्बल पार्क के कर्मचारियों और ट्रक यूनियन के पदाधिकारियों के बीच हुए खूनी संघर्ष के मामले में स्वामी रामदेव के भाई रामभरत को हाईकोर्ट की एकलपीठ के आदेश पर जेल से रिहा कर दिया गया है। शुक्रवार को निचली कोर्ट ने बचाव पक्ष की ओर से 50-50 हजार रुपये के दो जमानती और बंधपत्र लेकर रामभरत की रिहाई के आदेश दिए। 

27 मई 2015 की सुबह पदार्था स्थित पतंजलि फूड हर्बल पार्क के कर्मचारियों और स्थानीय ट्रक यूनियन के लोगों के बीच खूनी संघर्ष हुआ था। इसमें एक ट्रांसपोर्टर की मौके पर ही मौत हो गई थी। ट्रक यूनियन अध्यक्ष धर्मेन्द्र चौहान ने उसी दिन स्वामी रामदेव के भाई रामभरत समेत कई हमलावरों के खिलाफ हत्या और जानलेवा हमला करने का मामला दर्ज कराया था। मौके पर मौजूद एसएसपी के निर्देश पर पथरी पुलिस ने रामभरत और सात अन्य हमलावरों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। बाद में पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए फैक्ट्री प्रबंधक अनिल गोस्वामी ने कोर्ट में आत्मसमर्पण किया था। 15 जुलाई को नैनीताल हाईकोर्ट की एकलपीठ ने मामले की सुनवाई करते हुए आरोपी रामभरत को जमानत पर रिहा करने के आदेश दिए थे।

शुक्रवार को रामभरत के अधिवक्ता उत्तम सिंह चौहान ने निचली कोर्ट के आदेश पर मांगे गए 50-50 हजार रुपये के दो जमानती और इतनी ही धनराशि के बंधपत्र भरकर प्रस्तुत किए। जिस पर समुचित कार्रवाई करते हुए निचली कोर्ट ने उक्त मामले में आरोपित रामभरत को जेल से रिहा करने के आदेश दिए हैं। बचाव पक्ष के वरिष्ठ अधिवक्ता उत्तम सिंह चौहान ने बताया कि शुक्रवार को पौने छह बजे जेल प्रशासन ने मामले में आरोपित रामभरत को जेल से रिहा कर दिया गया है। वहीं इस मामले में सात अन्य आरोपी जेल में ही बंद हैं।


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बाबा रामदेव के भाई रामभरत जेल से रिहा