DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

करीब सवा घंटे तक मुरादाबाद में खड़ी रही शताब्दी एक्सप्रेस

करीब सवा घंटे तक मुरादाबाद में खड़ी रही शताब्दी एक्सप्रेस

बुधवार को शताब्दी सुपरफास्ट ट्रेन (12039) काठगोदाम से राइट टाइम 15.35 पर दिल्ली के लिए रवाना हुई। मुरादाबाद से पहले कटघर क्षेत्र से ही ट्रेन की गति धीमी हो गई थी। यहां समय से ट्रेन का सिग्नल भी हुआ, मगर ट्रेन आगे बढ़ न सकी। फिर चालक ने गार्ड से बात की और वीआईपी ट्रेन की खराबी के संबंध में कंट्रोल रूम को मैसेज भेजा गया। इसके पहले पायलट ने ट्रेन आगे बढ़ाने का प्रयास किया तो इंजन बंद हो गया। इसके बाद रेलवे के अफसर हरकत में आए। तत्काल मुरादाबाद से नया इंजन भेजकर ट्रेन का दिल्ली के लिए रवाना किया गया। इंजन फेल होने से करीब सवा घंटे तक यात्रियों को फजीहत झेलनी पड़ी।

मंगलवार को भी बदलना पड़ा था इंजन 
तीन मई की शाम को भी काठगोदाम स्टेशन में शताब्दी एक्सप्रेस के इंजन से तेल चूने लगा था। स्टेशन प्रबंधक दिनेश चंद्र जोशी ने बताया कि तत्काल शताब्दी में नया इंजन लगाकर ट्रेन को दिल्ली के लिए रवाना किया गया। दो मई को भी शताब्दी एक्सप्रेस सुबह पांच घंटे देरी से पहुंची, जिसे तीन घंटे देरी से दिल्ली के लिए रवाना किया जा सका।

अक्सर लेट पहुंच रही शताब्दी 
टूरिस्ट सीजन शुरू होने के बावजूद काठगोदाम से नई दिल्ली के बीच संचालित ट्रेनों में आ रही दिक्कतों के कारण यात्रियों को काफी दिक्कतें उठानी पड़ रही हैं। यात्रियों के अनुसार अक्सर ट्रेन आधा से एक घंटे तक लेट पहुंच रही है।

सात घंटे लेट पहुंची रानीखेत एक्सप्रेस
गाजियाबाद-मुरादाबाद के बीच गढ़ मुक्तेश्वर में दो मई को रेलवे ट्रैक टूटने से दिल्ली रूट बुरी तरह प्रभावित रहा। बुधवार को भी दिल्ली से काठगोदाम पहुंचने वाली रानीखेत एक्सप्रेस करीब सात घंटा देरी से पहुंची। ट्रेन लेट पहुंचने से पिथौरागढ़, चंपावत और बागेश्वर जाने वाले यात्री सबसे अधिक परेशान रहे।

शताब्दी एक नजर
औसत गति-51 किमी प्रति घंटा
समयबद्धता- औसतन एक घंटे से पौने दो घंटे तक विलंब
कुल सफर- 282 किमी. (काठगोदाम से दिल्ली)

ट्रेन सारिणी  (अप साइड)
काठगोदाम 15:35 बजे
हल्दवानी 15:52 बजे
लालकुंआ 16:23 बजे
रुद्रपुर सिटी  16:40 बजे
रामपुर  17:39 बजे
मुरादाबाद 18:10 बजे
गाजियाबाद  20:20 बजे
नई दिल्ली  21:05 बजे

शताब्दी एक्सप्रेस के संचालन का जिम्मा दिल्ली डिवीजन के पास है। लोको की खराबी पाई गई, इसके बाद दूसरे लोको का प्रबंध कर ट्रेन को यहां से रवाना कर दिया गया। दिल्ली को जाने वाली यह ट्रेन बीस मिनट विलंब से यहां आई थी। ओएचई मरम्मत के कारण भी ट्रेन का संचालन प्रभावित हुआ। लोको की जांच कराई जाएगी।
संजीव मिश्र, एडीआरएम मुरादाबाद 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:satabdi train late by one and half hour