DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बस में मां-बेटी से छेड़छाड़, पांच गिरफ्तार

नैनीताल से नोएडा लौट रही मां-बेटी के साथ शुक्रवार देररात टूरिस्ट बस के चालक और उसके साथियों ने छेड़छाड़ की। विरोध करने पर महिला को बस से नीचे उतार दिया और उसे कुचलने की कोशिश भी की। बस में सवार यात्रियों ने किसी तरह से महिला को बचाया। जानकारी मिलते ही भोट पुलिस ने बस का पीछाकर आरोपियों को धर दबोचा। पुलिस ने पीड़िता पर सभी आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर चालक समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

नोएडा निवासी एक महिला शुक्रवार रात करीब बारह बजे अपनी बेटी के साथ नैनीताल से प्राइवेट बस (यूपी-22टी 5252) से लौट रही थी। आरोप है कि उत्तराखंड के रुद्रपुर के पास पहुंचते ही चालक व उसके पांच साथियों ने बस में सवार मां-बेटी से अश्लील हरकत करनी शुरू कर दी। रुद्रपुर पहुंचने पर चालक के कुछ अन्य साथी भी बस में चढ़ गए।

उन्होंने महिला को बस से उतार दिया। इस दौरान उसे कुचलने की भी कोशिश की गई। जबकि, उसकी बेटी आरोपियों के चंगुल में थी। बदहवाश महिला सहयात्रियों के हस्तक्षेप पर किसी तरह दोबारा बस में सवार हुई। इसके बाद भी चालक व उसके साथी शराब के नशे में मां-बेटी को धमकाते हुए चलती बस में छेड़छाड़ करते रहे। इस बीच बस यूपी के रामपुर की सीमा में प्रवेश कर चुकी थी। महिला ने किसी तरह 100 नंबर पर फोन करके पुलिस को सूचना दी। चलती बस में छेड़छाड़ की सूचना पर भोट पुलिस हरकत में आ गई। पुलिस ने फौरन बस का पीछा करके मिलक थानाक्षेत्र के बिचौला कस्बे के पास उसे पकड़ लिया। पुलिस ने  बस चालक बागपत के मवईकला गांव निवासी अशोक व परवेश, गाजियाबाद के इन्द्रापुरम निवासी रविन्द्र व विवेक तथा बरेली के सुभाषनगर थाना क्षेत्र के मढ़ीनाथ कालोनी निवासी विशाल दिवाकर तथा शरीफ को पकड़ लिया। जबकि, एक आरोपी शरीफ अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया।

पीड़िता की तहरीर पर बस चालक व उसके पांच साथियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया। एक आरोपी फरार है, उसे भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
-वीरेंद्र प्रताप सिंह, थानाध्यक्ष भोट

बस सवार अन्य यात्री बने रहे मूकदर्शक

शुक्रवार देररात नैनीताल से दिल्ली जा रही लग्जरी बस में तीस से भी अधिक यात्री सवार थे। हल्द्वानी से बस में सवार होने के बाद ही बस चालक और उसके साथियों ने महिला और उसकी पुत्री से बदतमीजी शुरू कर दी थी। रुद्रपुर पहुंचने पर उनकी हरकतें और बढ़ गई थीं। आरोपियों ने महिला को जबरदस्ती बस से नीचे उतार दिया। महिला को बस से कुचलने का प्रयास भी किया। इस दौरान बस सवार करीब तीस से भी अधिक यात्री मूकदर्शक बने रहे। छेड़छाड़ के आरोपियों से बस सवार यात्री इतने डर गए थे के तीस से भी अधिक संख्या में होने के बाद भी विरोध करने की हिम्मत नहीं जुटा पाए।

पांच किमी पीछाकर पुलिस ने रोकी बस
बस सवार महिला व पुत्री से छेड़छाड़ की सूचना मिली तो थाना पुलिस हरकत में आ गई। पुलिस ने थाने के गेट के सामने ही चेकिंग शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस ने हाईवे से गुजर रही कई रोडवेज व प्राइवेट बसों को रोककर बस सवार महिलाओं से पूछताछ की। बीस मिनट की चेकिंग के दौरान पुलिस ने उस लग्जरी बस को रोकने का इशारा किया जिसमें मां-बेटी सवार थीं। इस पर बस चालक ने बस की स्पीड और बढ़ा दी। इसके बाद थानाध्यक्ष वीपी सिंह ने जीप से बस का पीछा किया और हाईवे पर गश्त कर रहे पुलिसकर्मियों को भी बस का पीछा करने का आदेश दिया। साथ ही कंट्रोल रूम को भी सूचना दी। इस दौरान पुलिस टीमों ने करीब पांच किमी पीछाकर बस को अपुनी गिरफ्त में ले लिया और आरोपियों को धर दबोचा।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:mother-daughter molested in bus five arrested