DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुझे जेल भेजने की साजिश कर रहा केंद्र : हरीश रावत

मुझे जेल भेजने की साजिश कर रहा केंद्र : हरीश रावत

पुनर्नियुक्ति की मांग के लिए संघर्ष कर रहे अतिथि शिक्षकों के धरने में शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी शामिल हुए। उन्होंने धरनास्थल से ही विद्यालयी शिक्षा सचिव डी सेंथिल पांडियन को फोन कर दो टूक चेतावनी दी कि अगर कांग्रेस दोबारा सत्ता में आई तो फिर शिक्षकों का उत्पीड़न करने वालों की खैर नहीं। उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार उन्हें जेल भेजने की भी साजिश रच रही है। इसके लिए बाकायदा राज्यपाल के सलाहकारों को जिम्मेदारी दी गई है।

परेड ग्राउंड स्थित धरनास्थल पर पिछले कई दिनों से प्रदेशभर के लगभग तीन हजार अतिथि शिक्षक पुनर्नियुक्ति की मांग को लेकर आंदोलनरत हैं। जबकि दस अतिथि शिक्षक क्रमिक अनशन पर बैठे हैं। उनके आंदोलन को भाजपा हो या कांग्रेस, सभी दल के वरिष्ठ नेता अपना समर्थन दे चुके हैं। शनिवार दोपहर 12 बजे पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी धरनास्थल पहुंचे। यहां उन्होंने क्रमिक अनशन पर बैठे अतिथि शिक्षकों का हाल पूछा। फिर सीधे विद्यालयी शिक्षा सचिव डी सेंथिल पांडियन को फोन कर दो टूक शब्दों में कहा कि शिक्षकों का उत्पीड़न किया जा रहा है। अगर कांग्रेस दोबारा सत्ता में आई तो फिर उत्पीड़न करने वाले अधिकारियों को नहीं छोड़ा जाएगा।

उन्होंने यह भी कहा, मैं जानता हूं कि उनकी सरकार के दौरान लिए गए फैसलों को जानबूझकर बदला जा रहा है। फोन रखने के बाद उन्होंने भाजपा को भी घेरने में देर नहीं की और बोले, केंद्र सरकार दमन पर उतर चुकी है। आजकल तो केंद्र में उन्हें जेल भेजने की प्लानिंग चल रही है। उन्होंने कहा कि अगर जल्द ही अतिथि शिक्षकों की पुनर्नियुक्ति नहीं हुई तो फिर वह भी धरने पर बैठ जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:center had conspired to send me prison harish rawat