DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड में क्षत्रपों की नाराजगी से सकते में भाजपा

उत्तराखंडउत्तराखंड में क्षत्रपों की नाराजगी से सकते में भाजपा

लाइव हिन्दुस्तान टीम
Wed, 05 Oct 2016 08:45 PM
उत्तराखंड में क्षत्रपों की नाराजगी से सकते में भाजपा

भाजपा के बड़े क्षत्रपों पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी व बीसी खंडूड़ी के संगठन को लेकर खुलकर नाराजगी जताने से पार्टी सकते में है। दोनों के ही समर्थक उन्हें सीएम का चेहरा देखना चाहते हैं। संगठन की चुप्पी क्षत्रपों और उनके समर्थकों की नाराजगी बढ़ा रही है। 

राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा कार्यसमिति की बैठक में क्षत्रपों की खींचतान खुलकर सामने आई। पूर्व सीएम कोश्यारी व खंडूड़ी ने कार्यसमिति के मंच का जो प्रयोग किया, उससे संगठन में हैरानी और बेचैनी दोनों हैं। दोनों के समर्थक चाहते हैं कि पार्टी उन्हें सीएम के चेहरे के तौर पर प्रोजेक्ट करे। संगठन स्तर से इसका संकेत न मिलने से उनकी और समर्थकों की नाराजगी बढ़ने लगी है। कोश्यारी का जहां कुमाऊं मंडल में खासा दबदबा है वहीं गढ़वाल मंडल में खंडूड़ी की अच्छी पकड़ है। दोनों पर समर्थकों को टिकट दिलाने का भी दबाव है। 

सियासत के जानकारों का कहना है कि दोनों के समर्थक इसे आखिरी मौका मान रहे हैं। यदि चुनाव तक दोनों के तेवर ऐसे ही रहे तो उनके समर्थकों को साधना पार्टी के लिए चुनौती रहेगी। पार्टी दोनों को किनारे करके भी आगे नहीं बढ़ना चाहती। अनौपचारिक बातचीत में पार्टी के एक प्रदेश पदाधिकारी ने माना कि दोनों ही कुछ अनमने से चल रहे हैं। लेकिन, पार्टी को अपनी रणनीति पर पूरा भरोसा है। 

उधर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि दोनों वरिष्ठ नेता हैं। उनकी बात सिर माथे पर। भगत दा ने कहा था कि भाजपा का त्रिशूल कांग्रेस सरकार का विनाश कर देगा। खंडूड़ी जी ने कहा कि कांग्रेसी हमें नहीं हरा सकते। 

संबंधित खबरें