अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राशन कार्ड पर डंडा: पीलीभीत के साढ़े तीन लाख राशन कार्ड रद्द हुए

राशन कार्ड पर डंडा: पीलीभीत के साढ़े तीन लाख राशन कार्ड रद्द हुए

योगी सरकार के आदेश के तुरंत बाद राशन कार्ड पर लगातार एक्शन लेना शुरू हो गया है। पीलीभीत के साढ़े तीन लाख से अधिक राशन कार्ड अब रद्द हो गए हैं। इन्हें वापस करने का हुक्म आ गया है। इसके बाद पहले की तरह की पर्ची से राशन मिलेगा। उसके बाद नया कार्ड आएगा यह स्मार्ट कार्ड की तरह होगा।

अभी कुछ ही महीने पहले सपा सरकार के दौरान नए राशन कार्ड बांटे गए थे। इन कार्डों पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की तस्वीर और समाजवादी सरकार की कुछ योजनाओं का उल्लेख किया गया था। कार्ड को बांटने के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों को युद्धस्तर पर लगाया गया। कार्ड अभी ठीक से बंट भी नहीं पाए थे कि चुनाव की आचार संहिता लग गई। बस जो कार्ड बंटे थे वहीं बंट पाए, बाकी रखे ही रह गए।

आचार संहिता के दौरान यह भी सुनने को मिला कि जिस पेज पर अखिलेश यादव की फोटो लगी है, वह फाड़ी जाएगी, लेकिन इतने कार्ड वापस लेकर पेज फाड़ना संभव नहीं था। इसके बाद सब कुछ ऐसे ही चलता रहा। अब जबकि नई सरकार बन गई है तो सरकार ने आदेश जारी किया है कि जो भी कार्ड बांटे गए हैं, वह तत्काल प्रभाव से वापस लिए जाएं।

पीलीभीत की बात करें तो यहां तीन लाख 70 हजार राशन कार्ड हैं, वहीं करीब 36 हजार अंत्योदय के कार्ड हैं। चुनाव से पहले करीब 73 फीसदी कार्ड बंट चुके थे। अब वे सभी वापस किए जाएंगे। इसके बाद राशन पहले की ही तरह उसी तरह से बंटेगा जैसे पहले बंटता था।

उम्मीद जताई जा रही है कि इसके बाद नए कार्ड जारी किए जाएंगे, यह स्मार्ट कार्ड की तरह होगा। इसमें बहुत सी जानकारी होगी। जिले के पूर्ति अधिकारी ने बताया कि राशन कार्ड वापस लेने की कवायद शुरू कर दी गई है, जल्द ही सारे कार्ड जमा कर नए सिरे से पर्ची बांटी जाएगी।

पढ़ें, आखिर योगी सरकार ने राशन कार्ड पर क्या बडा फैसला लिया है

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:three lakh ration cards junked in Pilibhit