DA Image
4 अप्रैल, 2020|4:13|IST

अगली स्टोरी

संदल से महक उठा ताजमहल

संदल से महक उठा ताजमहल

मोहब्बत की नगरी में सोमवार को शाहजहां के 362वें उर्स के दूसरे दिन शाहजहां और मुमताज की कब्र पर चंदन और गुलाब जल (रोस वॉटर) का लेप लगाकर संदल की रस्म अदा की गई। कव्वालों ने कव्वाली से समां बांधा। इसके बाद फूलों की चादर चढ़ाकर मुल्क में अमन और चैन की दुआ मांगी गई। 

ताजमहल में शाहजहां के 362वें उर्स के दूसरे दिन संदल की रस्म अदा की गई। एएसआइ के अधिकारियों की मौजूदगी में उर्स कमेटी के लोग संदल लेकर अंदर के मकबरे पर गए। कव्वाल शाहजहां के उर्स में अपनी कव्वाली से चार चांद लगा रहे थे। शाहजहां और मुमताज की कब्र को गुलाब जल से साफ किया गया। चंदन व गुलाब जल मिलाकर तैयार संदल दोनों की कब्र पर लगाया गया। तनवीर अहमद जमाली ने मुल्क में अमन चैन की दुआ कराई। मंगलवार को सुबह छह बजे कुलशरीफ, कुरानख्वानी, फातिहा, गुलपोशी होगी। इसके बाद दिनभर चादरपोशी व पंखे चढ़ाने का सिलसिला चलेगा। इस मौके पर सहायक संरक्षण पुरातत्व अभियंता राजनारायण, वरिष्ठ संरक्षण सहायक मुनज्जर अली, इब्राहिम जैदी, ताहिरउद्दीन ताहिर, मुनव्वर अली, हाजी मिर्जा, आरिफ तैमरी, आसिम बेग आदि मौजूद रहे।

 

आज एक हजार मीटर लंबी चादर चढ़ेगी 
खुद्दाम-ए-रोजा कमेटी की ओर से मंगलवार को एक हजार मीटर लंबी चादर चढ़ाई जाएगी। मालूम होकि उर्स में पिछले वर्ष 890 मीटर लंबी चादर चढ़ाई गई थी। वहीं शाही मस्जिद फतेहपुरी से 362 फूलों की चादर चढ़ाई जाएगी। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: taj mahal raises smelling from sandal